scriptमेगा हाइवे के समीप खुल रहे शराब के ठेके, नियमों की कर रहे अवहेलना….पढ़ें यह न्यूज | Patrika News
अलवर

मेगा हाइवे के समीप खुल रहे शराब के ठेके, नियमों की कर रहे अवहेलना….पढ़ें यह न्यूज

शराब के ठेके और गोदाम मुख्य सड़क से 220 मीटर दूर नहीं होकर रखे हुए है नजदीक। शराब बंदी का प्रस्ताव होने के बावजूद कर रहे बिक्री। एसडीएम ने जांच के दिए निर्देश।

अलवरJun 10, 2024 / 08:21 pm

Ramkaran Katariya

मालाखेड़ा. उपखंड के मोहम्मदपुर में शराब बंदी का प्रस्ताव होने के बावजूद अवैध रूप से शराब की बिक्री की जा रही है। आरोप है कि शराब के ठेकेदार ने ही कंटेनर रख दिया, जिसके चलते लोगों में गहरा रोष व्याप्त है।
ग्रामीणों का आरोप है कि इस क्षेत्र के आबकारी निरीक्षक की शह से ग्रामीण क्षेत्र के ठेके और गोदाम मुख्य सड़क से 220 मीटर दूर नहीं होकर नजदीक ही कंटेनर रखकर अवैध रूप से शराब की बिक्री का
कार्य हो रहा है। अलवर-करौली मेगा हाइवे, बीजवाड़ मौजपुर स्टेट हाइवे पर कई जगह रखे गए शराब के कंटेनर आबकारी विभाग के नियमों के विरुद्ध है। 220 मीटर की दूरी के स्थान से कम दूरी पर स्थापित कर शराब बेच रहे हैं।
कर रहे गुमराह, ताकि न हो जांच

आरोप है कि शराब कंटेनर पर संबंधित अनुज्ञाधारी ठेकेदार, कंपनी का नाम ही नहीं लिखा जाता, जिसका प्रमुख कारण है कि अलवर जिले से बाहर से निरीक्षण और जांच करने के लिए आने वाली टीम को इसके लिए गुमराह किया जाता है कि यह तो गोदाम है। इसलिए नाम नहीं लिख रखा, जबकि गोदाम पर भी अवैध रूप से शराब की बिक्री की जा रही है।
होटल के पास बेच रहे शराब

अलवर-करौली मेगा हाइवे कलसाड़ा पंचायत की दुकान पहले उपखंड कार्यालय के समीप संचालित थी, लेकिन अब ठेकेदार ने मिलीभगत कर उसे और भी नजदीक एक होटल के पास में कंटेनर को रख दिया, जिसकी दूरी इस मेगा हाइवे से 220 मीटर दूर नहीं है। आबकारी निरीक्षक ने किस प्रकार से इस की लोकेशन पास की है। यह सवाल उठाया जा रहा है। साथ ही इसकी जांच की मांग लोगों ने उठाई है। इसी प्रकार से अलवर-करौली मेगा हाइवे दुकान तथा गोदाम पर भी अनुज्ञाधारी का नाम नहीं है। मालाखेड़ा से भड़कोल की ओर शराब के ठेके पर भी लाइसेंस होल्डर के नाम नहीं है।
…………….

नियम अनुसार कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं

उपखंड अधिकारी मालाखेड़ा देवीसिंह का कहना है कि शराब की खोली गई दुकान को बंद करने के लिए पंचायत के सरपंच व अन्य लोगों ने ज्ञापन दिया है। इस पर सहायक आबकारी अधिकारी अलवर, मालाखेड़ा थाना अधिकारी को पत्र लिखकर तुरंत जांच कर नियम अनुसार कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।
…………………..

जांच कर कार्रवाई की जाएगी

कार्यवाहक आबकारी अधिकारी अर्चना शर्मा का कहना है कि ग्रामीण क्षेत्र के सभी ठेके आबकारी अधिनियम के तहत स्टेट हाइवे और मेगा हाइवे से 220 मीटर दूरी पर खोले जा सकते हैं। अगर कहीं किसी ने कम दूरी पर खोला है तो इसकी जांच कर उस क्षेत्र के जिम्मेदार के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। जिस पंचायत में शराब बंदी का प्रस्ताव ले रखा है, वहां पर दुकान नहीं लगेगी। अगर ऐसा प्रस्ताव नहीं है तो उस गांव को शराब ठेके वाले दुकान से अटैच कर दिया जाता है। मोहम्मतपुर के मामले में जांच करवा कर आगामी कार्रवाई की जाएगी।
……………….

सरपंच के नेतृत्व में ग्रामीणों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

उपखंड के मोहम्मतपुर में शराब बंदी का प्रस्ताव होने के बावजूद अवैध रूप से शराब का कंटेनर शराब के ठेकेदार ने ही रख दिया, जिसके चलते लोगों में गहरा रोष व्याप्त है। सोमवार को उपखंड अधिकारी मालाखेड़ा को सरपंच के नेतृत्व में इसे लेकर लोगों ने ज्ञापन दिया। सरपंच कुंती देवी यादव, समाजसेवी शेढुराम यादव, असदुद्दीन, अशरफ जूहू, लालू, जयमल, बाबू, जाहिर, कृष्ण ने बताया कि ग्राम पंचायत मोहम्मदपुर के पांच गांव में कोई शराब का ठेका राजस्थान सरकार से स्वीकृत नहीं है तथा पंचायत में शराब बंदी का निर्णय भी ले रखा है। उसके बावजूद इसी क्षेत्र के एक युवक ने अपने खेत में कंटेनर रखवा दिया, जो अवैध है। इस बाबत एसडीएम मालाखेड़ा को शराब का अवैध रूप से खोले गए ठेके को बंद करने के लिए ज्ञापन दिया है।

Hindi News/ Alwar / मेगा हाइवे के समीप खुल रहे शराब के ठेके, नियमों की कर रहे अवहेलना….पढ़ें यह न्यूज

ट्रेंडिंग वीडियो