मत्स्य विश्वविद्यालय में भर्ती घोटाले की फिर से होगी जांच, मानव संसाधन मंत्रालय ने पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष की शिकायत पर दिए जांच के आदेश

मत्स्य विश्वविद्यालय में भर्ती घोटाले की फिर से होगी जांच, मानव संसाधन मंत्रालय ने पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष की शिकायत पर दिए जांच के आदेश
मत्स्य विश्वविद्यालय में भर्ती घोटाले की फिर से होगी जांच, मानव संसाधन मंत्रालय ने पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष की शिकायत पर दिए जांच के आदेश

Lubhavan Joshi | Updated: 19 Sep 2019, 10:49:14 AM (IST) Alwar, Alwar, Rajasthan, India

Matsya University Scam Latest News : मत्स्य विश्वविद्यालय में हुई भर्ती की दोबारा से जांच के आदेश जारी किए गए हैं।

अलवर. मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने प्रदेश के कॉलेज शिक्षा निदेशालय को अलवर के राजर्षि भर्तृहरि मत्स्य विश्वविद्यालय में हुई भर्ती मामले की जांच के आदेश दिए हैं। मंत्रालय के अवर सचिव कुंडला महाजन ने इस जांच के लिए कॉलेज शिक्षा निदेशालय को पत्र लिखा है। इससे 23 लोगों की नौकरी पर तलवार लटक गई है। इस पत्र में भर्ती प्रक्रिया विभागीय नियमों के अनुसार नहीं होने पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। इस पत्र के बाद कॉलेज निदेशालय मामले की जांच अगले सप्ताह से शुरू करेगा। इसके लिए एक जांच कमेटी बनाई जाएगी, जो अपनी जांच एक पखवाड़े में पूरी कर रिपोर्ट मानव संसाधन विकास मंत्रालय को देगी। यह जांच विश्वविद्यालय के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष सुमंत चावड़ा की शिकायत पर हो रही है। यह भर्ती 2018 में की गई थी जिसमें कनिष्ठ लिपिक के 10 पद, सहायक कर्मचारी के 10 पद, दो सहायक कुलसचिव के पद तथा एक विधि सहायक के पद पर भर्ती की गई थी। यह मामला दो बार विधानसभा में भी उठ चुका है जिसकी जांच के आदेश उच्च शिक्षा मंत्री ने
दिए थे।

यह हुई थी शिकायत-

इस शिकायत में सुमंत चावड़ा ने लिखा था कि विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ. भारत सिंह के कार्यकाल में हुई भर्तियों में भारी अनियमितताएं हुई हैं। इन अनियमितताओं का यह हाल था कि यहां भर्ती के लिए निर्धारित नियमों का पालन नहीं किया गया। भर्ती के लिए हुई प्रतियोगी परीक्षा का परिणाम आनन-फानन में जारी किया गया और उन्हें उसी दिन ज्वाइन करवा दिया गया। इसी प्रकार सफल प्रतियोगियों को एक ही दिन में मेडिकल व पुलिस वेरिफिकेशन कराए बिना ही नियुक्ति दे दी गई। इस भर्ती के तार कई ऐसे लोगों से जुड़े हैं जिनके रिश्तेदार विश्वविद्यालय में नौकरी कर
रहे हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned