राजस्थान के इस युवा विधायक को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जेल में बैठे बदमाश ने किया फोन, मचा हड़कंप

अलवर जिले की मुंडावर विधानसभा से भाजपा विधायक मंजीत चौधरी को जान से मारने की धमकी मिली है, इसके बाद पुलिस ने दो जनों को गिरफ्तार किया

By: Lubhavan

Updated: 24 May 2020, 11:49 AM IST

अलवर/नीमराणा. मुण्डावर विधायक मंजीत धर्मपाल चौधरी से शुक्रवार रात अज्ञात व्यक्ति ने व्हाट्सएप कॉल कर 20 लाख रुपए की फिरौती मांगी। फिरौती के रुपए नहीं देने पर जान से मारने की धमकी दी। इस सम्बन्ध में विधायक चौधरी ने नीमराणा थाने में मामला दर्ज कराया है।

नीमराणा थानाधिकारी संजय शर्मा ने बताया कि मुण्डावर विधायक मंजीत धर्मपाल चौधरी ने पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया है कि विधायक चौधरी शुक्रवार सुबह करीब 9.30 बजे जयपुर से अपने विधानसभा क्षेत्र मुण्डावर के भ्रमण पर निकले। नीमराणा पंचायत समिति में उन्होंने अपना मोबाइल व्हाट्स-एप चैक किया तो उस पर मैसेज आया कि 20 लाख रुपए पहुंचा नहीं तो दो दिन में मारा जाएगा। यह मैसेज युवराज टाईगर नीमराणा ने मोबाइल नम्बर 6377900267 से किया था। उन्होंने व्हाट्स-एप मैसेज पर ध्यान नहीं दिया।

उसके बाद वह जयपुर के लिए रवाना हो गए। शाम 7.23 बजे रास्ते में उसी नम्बर से व्हाट्स-एप वाइस कॉल आया। व्हाट्स-एप कॉल करने वाला व्यक्ति बोला कि मैं युवराज टाइगर नीमराणा बोल रहा हूं। 20 लाख रुपए दो दिन में दे दे नहीं तो अंजाम भुगतने की लिए तैयार रहना। युवराज टाईगर ने विधायक चौधरी को तीन चार बार कॉल किया। जिसके बाद उन्होंने नम्बर ब्लॉक कर दिया। उसके बाद दूसरे नम्बर 9828114671 से शाम 7.39 बजे व्हाट्स-एस कॉल आई। कॉल करने वाला व्यक्ति बोला कि युवराज टाईगर नीमराणा के बारे में बात कर रहा हूं। तब विधायक बोले कि वह बहुत सारे युवराज नाम के व्यक्तियों को जानते हैं। कॉल करने वाला व्यक्ति बोला कि मैं युवराज टाईगर नीमराणा की बात कर रहा हूं। जो वह मांग रहा है उसे दे दो वरना अंजाम बुरा होगा। ऐसे में उन्हें लगा कि दोनों व्यक्ति एक जगह बैठ कर बात कर रहे हैं। इस तरह के लोग गैंगस्टर बताकर आमजन में भय फैला रहे हैं। इसके बाद मुण्डावर विधायक मंजीत चौधरी ने शनिवार को इस सम्बन्ध में नीमराणा थाने में मामला दर्ज कराया है। वही मामले की जांच बहरोड़ थानाधिकारी जिंतेंद्र सोलंकी को सौपी गई है। विधायक की रिपोर्ट पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

जेलों से चल रहा अपराधियों का नेटवर्क

बड़े बदमाश जेलों में बैठकर ही मोबाइल के माध्यम से बाहर अपना अपराध का नेटवर्क चला रहे हैं। जानकारी के अनुसार जिस युवराज टाईगर नीमराणा नामक युवक ने मुण्डावर विधायक मंजीत चौधरी को धमकी दी है वह पिछले करीब छह माह से सम्प्रेषण गृह जयपुर में है, लेकिन पुलिस ने अपनी रिपोर्ट में उसे बालिग माना है। नीमराणा थाना पुलिस ने युवराज टाईगर को हत्या के प्रयास मामले में पकड़ा था। वहीं, भरतपुर जिले के सेंट्रल जेल सेवर में बंद पंजाब के गैंगस्टर लारेंस विश्नोई के कब्जे पुलिस प्रशासन की टीम ने सर्च ऑपरेशन के दौरान दो एंड्रोयड फोन, एक ब्लूटूथ व एक मोबाइल पिन सहित कई उपकरण बरामद किए हैं। चुरू जिले के राजगढ़ में हुए शराब तस्कर के मर्डर में लारेंस विश्नोई की भूमिका सामने आई है। लारेंस जेल में बैठे-बैठे मोबाइल से डायरेक्शन दे रहा था।

पुलिस महकमे में मचा हडक़म्प

मुण्डावर विधायक को व्हाट्स-एप कॉल पर धमकी देने और फिरौती मांगने के घटना के बाद पुलिस महकमे में हडक़म्प मच गया है। विधायक चौधरी ने मामले को लेकर डीजीपी भूपेन्द्र यादव सहित भाजपा नेतृत्व व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट को शिकायत भेजी है।

पुलिस ने दो साथी पकड़े, मोबाइल भी बरामद

पुलिस सूत्रों के अनुसार मुण्डावर विधायक को धमकी देने वाले युवराज टाईगर के साथ दो अन्य युवक भी शामिल हैं। वह जयपुर के रहने वाले हैं। इनमें एक युवक ने विधायक को फोन किया था तथा दूसरे ने मोबाइल और सिम उपलब्ध कराई थी। इनमें से एक युवक जयपुर का हिस्ट्रीशीटर है। बहरोड़ थानाधिकारी जितेन्द्र सोलंकी के नेतृत्व में पुलिस टीम शनिवार को जयपुर पहुंची। पुलिस टीम ने इन दोनों युवकों को हिरासत में ले लिया है और उनके कब्जे से मोबाइल भी बरामद कर लिया है। जिसके माध्यम से धमकी दी गई थी।

बना हुआ है लोगों में भय

विधायक चौधरी को धमकी मिलने के बाद से क्षेत्र में भय का माहौल बना हुआ है। लोग कह रहे है कि जब एक जनप्रतिनिधि को ही धमकी मिल रही है तो वह कहां से सुरक्षित रह गए।

गंभीरता से जुटी पुलिस

मुण्डावर विधायक को मोबाइल पर धमकी देने के मामले में पुलिस गंभीरता से जुटी हुई है। फोन करने वाला युवक फिलहाल सम्प्रेषण गृह जयपुर में है। पुलिस ने अपनी रिपोर्ट में आरोपी को बालिग माना है। कोर्ट के माध्यम से उसका प्रोडक्शन वारंट लिया जा रहा है। विधायक को धमकी भरा फोन करने में उसके साथ जयपुर के दो युवक भी शामिल थे। जिनकी गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं।
- अमनदीप सिंह, पुलिस अधीक्षक, भिवाड़ी।

Lubhavan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned