मोबाइल लूट गैंग का पर्दाफ ाश दो पकड़े, 7 मोबाइल बरामद

एक बाल अपचारी को किया निरुद्ध

अलवर/तिजारा. पुलिस ने रविवार को तिजारा और टपूकड़ा थाना क्षेत्र से मोबाइल लूट की वारदात करने वाली गैंग के दो सदस्यों को गिरफ्तार व एक बाल अपचारी को निरुद्ध कर 7 मोबाइल जब्त किए हैं।
डीएसपी कुशालसिंह एवं थानाधिकारी जितेंद्र नावरिया ने बताया कि गत तीन-चार माह में तिजारा में रास्ते चलते लोगों से बाइक सवार अज्ञात व्यक्ति झपट्टा मारकर मोबाइल लूट की वारदातों को अंजाम दे रहे थे। जिस पर एक विषेश टीम गठित कर लूट के घटनास्थलों की लगातार निगरानी व खुफिया सूत्रों के आधार पर दो जनों को गिरफ्तार किया गया। एक बाल अपचारी को लूट की वारदात में शामिल होने पर निरुद्ध किया गया है, जिनसे तिजारा में मोबाइल लूट की चार व टपूकड़ा की तीन वारदातों का खुलासा करते हुए समस्त प्रकरणों की लूट की सामग्री बरामद करने में सफलता प्राप्त की है।
उन्होंने बताया कि 2 नवंबर को जितेंद्र पुत्र प्रकाशचंद निवासी असलीमपुर ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि एक सितंबर को सायं 7.30 बजे वह तिजारा से अपने गांव असलीमपुर पैदल जा रहा था। जैसे ही गैस एजेन्सी के पास पहुंचा तो उसी समय तिजारा की ओर से सीडी डीलक्स बाइक पर ३ जने आए और बाइक को मेरे आगे लगा दी। उन्होंने बंदूक भिड़ाकर एक ओपो मोबाइल और 650 रुपए की नकदी छीन ली। बाद में मैंने उनको काफी तलाश किया, लेकिन नहीं मिले। वहीं 8 नवंबर को सुनील वर्मा निवासी टोंक हाल शिक्षक राजकीय विद्यालय मालयर गुर्जर ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि 30 सितंबर को सायं 8 बजे वह बाजार आया था। पंचायत समिति तिजारा के सामने आते समय घर से फोन आया तो बात करते हुए इमली चौक की ओर आ रहा था। पीछे से अचानक दो बाइक सवार युवक जिनमें से एक ने नीली शर्ट व एक ने सफेद शर्ट पहन रखी थी आए और उन्होंने मोबाइल छीना और अस्पताल वाले रास्ते की ओर भाग गए। उसी समय थाने पर फोन से सूचना दे दी थी। पुलिस ने दोनों की रिपोर्ट दर्ज कर एक विशेष टीम बनाई। टीम ने वारदात के बाद इलाके में संदिग्धों से लगातार पूछताछ के आधार पर वैज्ञानिक रीति से अनुसंधान करते हुए दो जनों को वारदात की फिराक में घूमते समय पकड़कर बाद अनुसंधान गिरफ्तार किया। एक बाल अपचारी को लूट की वारदात में शामिल होने पर निरुद्ध किया गया है। ये आरोपी लगातार तिजारा के एक एरिया विशेष में ही शाम को 8 से 9 बजे के बीच वारदात कर रहे थे। ये कस्बे के विकास पथ इमली चौक व अलवर-भिवाड़ी रोड पर ही वारदात करते और बाद वारदात वहां से आसानी से फरार हो जाते थे। बदमाशों को महंगे मोबाइलों का शौक होने के कारण महंगे मोबाइल की लूटते थे। पुलिस के अनुसार तालीम पुत्र इलियास निवासी नबीनगर थाना शेखपुर अहीर, संदीप पुत्र सुच्चासिंह रायसिख निवासी नवीनगर थाना शेखपुर अहीर तथा एक नाबालिग को निरुद्ध किया गया है।
लुटेरों का आपराधिक रिकार्ड
तालीम व संदीप रायसिख पर तिजारा एवं शेखपुर अहीर में कई मुकदमे दर्ज हैं। तालीम पूर्व में भी कस्बा तिजारा से अपने साथी के साथ मोबाइल लूट की वारदात में गिरफ्तार हो चुका है।
बरामद सामान
इनसे दो फोन विवो कंपनी, एक ट्रिपल कैमरा रंग नीला, एक फोन रेडमी रंग काला, एक फोन ओप्पो रंग लाल, एक फोन एमआई कंपनी रियल मी रंग काला, एक फोन सैमसंग कंपनी रंग काला व एक टूटे फोन के बैटरी व कवर बरामद किए गए हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned