10 साल के बच्चे को कोरोना हुआ तो मां भी उसके साथ अस्पताल गई, बोली-किसी भी सूरत में अकेला नहीं छोड़ सकती

बच्चे की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसकी मां ने भी उसके साथ अस्पताल जाने का फैसला किया, वह अब भी अपने बच्चे के साथ है।

By: Lubhavan

Published: 24 May 2020, 03:46 PM IST

अलवर. प्रदेश में लगातार कोरोना के मरीज सामने आ रहे हैं। कई जिलों में मरीजों की तादाद बढ़ रही है। हालांकि प्रदेश की रिकवरी दर भी अच्छी है। घर में या पड़ोस के किसी के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने की खबर सुनकर लोग भयभीत हो जाते हैं और उनसे दूरी बना लेते हैं, लेकिन एक मां की ममता कोरोना से कहीं ज्यादा बड़ी है।

जी हां, अलवर जिले में एक 10 साल का बालक कोरोना पॉजिटिव पाया गया, तो सभी को चिंता हुई। उसे कोरोना डेडिकेटेड अस्पताल में भर्ती करने के लिए ले जाने लगे तो उसकी मां भी उसके साथ अस्पताल गई और अभी भी वो अपने बच्चे के साथ अस्पताल में हैं।

अलवर शहर में भैरु का चबूतरा में 21 मई की रिपोर्ट में एक 10 साल का बालक कोरोना पॉजिटिव पाया गया। बच्चे की मां 18 मई को उसे उसके दादाजी से मिलवाने अलवर लेकर आई थी। उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उसकी मां ने भी चिकित्सा विभाग से अस्पताल जाने की गुजारिश की। सीएमएचओ ओपी मीणा ने बताया कि महिला ने अपने बेटे के साथ अस्पताल में रहने के लिए लिखित में दिया है।

बच्चे की मां का कहना है कि बेटा अभी छोटा है, वह उसे किसी भी सूरत में अकेला नहीं छोड़ सकती। ऐसे में वह भी 21 मई के बाद से अस्पताल में अपने बच्चे के साथ है। हालांकि वहां वे पूरी सावधानी बरतते हुए सभी प्रोटोकॉल की पालना कर रहे हैं। अस्पताल में बच्चा मां की नजरों के सामने है तो उन्हें सुकून है। उम्मीद है की बच्चा जल्द कोरोना से जंग जीतकर अपने घर वापस लौटेगा।

यह भी पढ़ें-

कोरोना से ठीक होने के बाद युवक बोला, मुझे डिस्चार्ज मत करिए, वजह जानकर आपको भी होगी ख़ुशी

COVID-19
Lubhavan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned