अलवर के नए जिला कलक्टर नन्नूमल पहाड़िया ने ग्रहण किया पदभार, कोरोना को लेकर निवर्तमान कलक्टर आनंदी से भी की चर्चा

अलवर के नए जिला कलक्टर नन्नूमल पहाड़िया ने मंगलवार को पदभार ग्रहण किया।कार्यभार ग्रहण करने के बाद प्रशासनिक, चिकित्सा, रसद व यूआइटी अधिकारियों से फीड बैक लिया।

By: Lubhavan

Published: 01 Dec 2020, 11:14 PM IST

अलवर. जिले में नव पदस्थापित कलक्टर नन्नूमल पहाडिय़ा ने मंगलवार को अलवर के 48 वें जिला कलक्टर के रूप में पद भार ग्रहण किया। वे वर्ष 2020 में अलवर जिले में तीसरे कलक्टर हैं। इससे पहले इसी साल इंद्रजीत सिंह, आनन्दी भी अलवर जिला कलक्टर पद पर रह चुकी हैं। पहाडिय़ा सवाई माधोपुर से अलवर जिला कलक्टर पद पर स्थानांतरित होकर सुबह ही अलवर पहुंचे।

नव पदस्थापित जिला कलक्टर पहाडिय़ा ने कार्यभार ग्रहण करने के बाद प्रशासनिक, चिकित्सा, रसद व यूआइटी अधिकारियों से फीड बैक लिया। उन्होंने एडीएम एवं अन्य प्रशासनिक अधिकारियों से अलवर जिले में कोरोना से बचाव के प्रयास, प्रशासनिक गतिविधियों पर चर्चा की। वहीं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी व सामान्य चिकित्सालय के प्रमुख चिकित्सा अधिकारी से कोरोना की स्थिति को लेकर फीड बैक लिया। उन्होंने चर्चा के दौरान चिकित्सा अधिकारियों को कहा कि प्रदेश के सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित 8 जिलों में अलवर भी शामिल है।

अधिकारियों से कोराना व अन्य योजनाओं का लिया फीड बैक

इस कारण यहां कोरोना संक्रमण से बचाव के उपाय करना ज्यादा जरूरी है। जिला कलक्टर ने रसद विभाग के अधिकारियों से वन नेशन वन राशन कार्ड योजना में अलवर की प्रगति बढ़ाने की जरूरत है। अभी जिले की प्रगति कम है। वहीं यूआइटी के अधिकारियों से अलवर शहर के विकास के लिए योजना बनाने को कहा। चर्चा के दौरान न्यास सचिव प्रताप सिंह, अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रथम रामचरण शर्मा, एडीएम सिटी उम्मेदी लाल मीना, नगर परिषद आयुक्त सोहन सिंह नरूका, उपखण्ड अधिकारी अलवर योगेश डागुर एवं सहायक कलक्टर रेणु मीना सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

निवर्तमान कलक्टर से की शिष्टाचार की भेंट

जिला कलक्टर पहाडिय़ा ने कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व कलक्टर निवास पहुंचकर निवर्तमान जिला कलक्टर आनन्दी से शिष्टाचार की भेंट की। उन्होंने निवर्तमान कलक्टर से कोरोना संक्रमण से बचाव के उपाय, प्रशासनिक गतिविधियों, जिले की जरूरत व प्राथमिकता पर भी चर्चा की।

इंतजार में खड़े रहे अधिकारी

नव पदस्थापित जिला कलक्टर की अगवानी के लिए प्रशासनिक अधिकारी व कर्मचारी काफी देर तक कलक्ट्रेट परिसर में नीचे खड़े होकर इंतजार करते रहे। इंतजार लंबा होने पर कई बार ये अधिकारी व कर्मचारी आसपास के कार्यालयों में जाकर बैठे। बाद में जिला कलक्टर के आने पर उनकी अगवानी की।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned