scriptNCR: Alwar And Bharatpur Area Will Be Out From NCR | NCR का दायरा घटेगा, अलवर और भरतपुर होंगे बाहर, केवल यह तहसीलें रहेंगी बरक़रार, जानिए कितना क्षेत्र कम होगा | Patrika News

NCR का दायरा घटेगा, अलवर और भरतपुर होंगे बाहर, केवल यह तहसीलें रहेंगी बरक़रार, जानिए कितना क्षेत्र कम होगा

फिलहाल राजस्थान का 13 हजार 446 वर्ग किमी क्षेत्र एनसीआर का हिस्सा है। नए रीजनल प्लान के अनुसार अब राजस्थान का 6 हजार 777 वर्ग किमी क्षेत्र ही राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र का हिस्सा रहेगा।

अलवर

Updated: December 31, 2021 08:02:08 am

अलवर. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र का ड्राफ्ट रीजनल प्लान 2041 लागू होने के बाद अलवर व भरतपुर का 50 प्रतिशत क्षेत्र एनसीआर से बाहर हो जाएगा। फिलहाल राजस्थान का 13 हजार 446 वर्ग किमी क्षेत्र एनसीआर का हिस्सा है। जिसमें अलवर जिले का 8 हजार 380 वर्ग किमी और भरतपुर का 5 हजार 66 वर्ग किमी क्षेत्र शामिल है। नए रीजनल प्लान के अनुसार अब राजस्थान का 6 हजार 777 वर्ग किमी क्षेत्र ही राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र का हिस्सा रहेगा। जिसमें अलवर जिले का 4 हजार 705.19 वर्ग किमी और भरतपुर का 2 हजार 71 वर्ग किमी क्षेत्र ही एनसीआर में रहेगा। एनसीआर प्लानिंग बोर्ड के अधिकारियों ने बताया कि नए ड्राफ्ट के लिए 7 जनवरी तक आमजन के सुझाव मांगे गए हैं। मार्च 2022 में इस ड्राफ्ट की अंतिम अधिसूचना जारी की जाएगी।
NCR: Alwar And Bharatpur Area Will Be Out From NCR
NCR का दायरा घटेगा, अलवर और भरतपुर होंगे बाहर, केवल यह तहसीलें रहेंगी बरक़रार, जानिए कितना क्षेत्र कम होगा
गौरतलब है कि अक्टूबर माह में एनसीआर प्लानिंग बोर्ड की बैठक में निर्णय लिया गया था कि दिल्ली के राजघाट से 100 किमी दूरी के क्षेत्र ही राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र का हिस्सा रहेंगे। फिलहाल एनसीआर का दायरा 175 किमी तक है।
अलवर की पांच व भरतपुर की दो तहसीलें रहेंगी

एनसीआर में रीजनल प्लान 2041 लागू होने के बाद अलवर जिले की पांच व भरतपुर की दो तहसीलें राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र का हिस्सा रहेंगी। अलवर जिले से तिजारा, नीमराणा, किशनगढ़बास, कोटकासिम व मुंडावर और भरतपुर जिले की पहाड़ी व कामां तहसील का क्षेत्र एनसीआर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में बरकरार रहेगी। राजघाट से100 किमी के दायरे में आने वाली तहसीलों को एनसीआर में रखने का निर्णय राज्य सरकार के फैसले पर निर्भर करेगा।
विकास व आवसीय योजनाओं में विभाजित होगा क्षेत्र

परिसीमन के बाद अलवर जिले के 4 हजार 705.19 वर्ग किमी क्षेत्र में से 883.83 वर्ग किमी क्षेत्र तहसीलों के लिए, 2 हजार 379.90 वर्ग किमी का क्षेत्र ट्रांजिस्ट ओरियेंटेड डेवलपमेंट कॉरिडोर के लिए रहेगा। इन क्षेत्रों में आवासीय कॉलोनियां बनाने का प्रस्ताव है। वहीं 1442.46 वर्ग किमी विकास नियंत्रण क्षेत्र के अंर्तगत रहेगा। इसी तरह भरतपुर में 612.02 वर्ग किमी का क्षेत्र तहसीलों के लिए, 950.72 वर्ग किमी का क्षेत्र ट्रांजिस्ट ओरियेंटेड डेवलपमेंट कॉरिडोर और 508.67 वर्ग किमी विकास नियंत्रण क्षेत्र के लिए रहेगा।
शिक्षा, चिकित्सा व पर्यटन के क्षेत्र में होगा विकास

एनसीआर प्लानिंग बोर्ड की ओर से प्लान में प्रस्तावित है कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के छोटे कस्बों में शिक्षा, चिकित्सा, पर्यटन, सस्ते दरों पर आवास प्रदान किए जाएं। प्रारंभिक तौर पर नूंह-भिवाड़ी और मथुरा-अलवर क्षेत्रीय एक्सप्रेस वे बनाने की तैयारी है। यह एक्सप्रेस वे अलवर को उत्तर प्रदेश और हरियाणा के शहरों से जोड़ेंगे। रीजनल प्लान में चर्चा तैयारी है कि एनसीआर में शामिल शहरों के बीच की दूरी 60 मिनट में पूरी हो। इसलिए परिवहन व्यवस्था को अधिक महत्व दिया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतहो जाइये तैयार! आ रही हैं Tata की ये 3 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, शानदार रेंज के साथ कीमत होगी 10 लाख से कमइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतShani: मिथुन, तुला और धनु वालों को कब मिलेगी शनि के दशा से मुक्ति, जानिए डेटइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीराजस्थान में आज भी बरसात के आसार, शीतलहर के साथ फिर लौटेगी कड़ाके की ठंडPost Office FD Scheme: डाकघर की इस स्कीम में केवल एक साल के लिए करें निवेश, मिलेगा अच्छा रिटर्न

बड़ी खबरें

भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन स्टेज पर पहुंचा ओमिक्रॉन वेरिएंट - केंद्र सरकारUP Assembly Elections 2022 : पलायन और अपराध खत्म अब कानून का राज,चुनाव बदलेगा देश का भाग्य - गृहमंत्री शाहराजपथ पर पहली बार 75 एयरक्राफ्ट और 17 जगुआर का शौर्य प्रदर्शन, देखें फुल ड्रेस रिहर्सल का वीडियोहेट स्पीच को लेकर हिन्दू संगठन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, कहा-मुस्लिम नेताओं की भी हो गिरफ्तारीPriyanka Chopra Surrogacy baby: तस्लीमा ने वेश्यावृत्ति, बुरका से की सरोगेसी की तुलनाआज 6 बजे इंडिया गेट पर लगेगी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा, पीएम मोदी ने दी जानकारीसुबह 6 बजे टाइम कीपर के घर EOW का छापा, मकान देख दंग रह गए अफसरबसपा प्रत्याशी के पास सबसे अधिक गाडियाँ, अरिदमन हथियार रखने में आगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.