scriptPatrika Impact: Govt Will Not Seize Land Of Farmers In Alwar District | अलवर में किसानों की जमीन नहीं होगी नीलाम, पत्रिका की खबर के बाद सरकार ने वापस लिए आदेश, किसानों ने जताया पत्रिका का आभार | Patrika News

अलवर में किसानों की जमीन नहीं होगी नीलाम, पत्रिका की खबर के बाद सरकार ने वापस लिए आदेश, किसानों ने जताया पत्रिका का आभार

आदेश वापस होने के बाद किसानों ने पत्रिका का आभार जताया है। किसानों ने कहा कि पत्रिका उनकी आवाज बना, इस कारण उनकी जमीन बच पाई है।

अलवर

Updated: January 20, 2022 01:24:39 pm

अलवर. जिले के रैणी क्षेत्र में 11 किसानों की जमीन कुर्की के आदेश वापस ले लिए गए हैं। पत्रिका ने गुरुवार के अंक में किसानों की जमीन नीलाम होने का मुद्दा प्रमुखता से उठाया। इसके बाद सरकार ने किसानों को बातचीत के लिए जयपुर बुलाया है। वहीं मुख्यमंत्री ने जानकारी दी है कि प्रदेश में रिजर्व बैंक के नियंत्रण में आने वाले व्यवसायिक बैंकों की ओर से किसानों के ऋण न चुका पाने के कारण रोड़ा एक्ट के तहत भूमि कुर्की व नीलामी की कार्रवाई की जा रही है। राज्य सरकार ने अधिकारियों को इसे रोकने के निर्देश दिए हैं। आदेश वापस होने के बाद किसानों ने पत्रिका का आभार जताया है। किसानों ने कहा कि पत्रिका उनकी आवाज बना, इस कारण उनकी जमीन बच पाई है।
Patrika Impact: Govt Will Not Seize Land Of Farmers In Alwar District
अलवर में किसानों की जमीन नहीं होगी नीलाम, पत्रिका की खबर के बाद सरकार ने वापस लिए आदेश, किसानों ने जताया पत्रिका का आभार
ऋण नहीं चुका पाए तो कुर्की के आदेश जारी किए थे

अलवर जिले के रैणी प्रशासन ने किसानों की जमीन कुर्क कर कब्जे में लेने के आदेश जारी किए थे। जानकारी के अनुसार रैणी क्षेत्र के किसानों ने कुछ समय पहले रैणी स्थित बडौदा राजस्थान क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक से कृषि ऋण लिया था। समय पर नहीं चुकाने पर रैणी उपखंड अधिकारी ने 20 जनवरी को इन किसानों की जमीन कुर्क करने के आदेश निकाले। पत्रिका की खबर के बाद प्रशासन ने यह आदेश वापस ले लिए हैं। रैणी उपखण्ड अधिकारी ने इन आदेशों को वापस लेने की बात कही है। वहीं राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा किसानों की आवाज बनकर मुख्यमंत्री के समक्ष यह मांग रखने जा रहे थे। सरकार ने मांग मानते हुए कुर्की के आदेशों को वापस ले लिया है।
खेती के अलावा जीविका का साधन नहीं

जिन किसानों की जमीन कुर्क की जा रही थी, उनके पास जीवन यापन करने के लिए खेती के अलावा कोई अन्य साधन नहीं है। अगर उनकी जमीन कुर्क हो जाती तो किसानों को मुश्किलें आती। बैंक अधिकारियों के मुताबिक इन किसानों के ऋण अधिक नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

Drone Festival: दिल्ली के प्रगति मैदान में भारत के सबसे बड़े ड्रोन फेस्टीवल का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदीपाकिस्तान में 30 रुपए महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, Pak सरकार को घेरते हुए इमरान खान ने की मोदी की तारीफअजमेर शरीफ दरगाह में मंदिर होने के दावे के बाद बढ़ाई गई सुरक्षा, पुलिस बल तैनातपहली बार हिंदी लेखिका को मिला अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार, एक मॉं की पाकिस्तान यात्रा पर आधारित है उपन्यासजम्मू कश्मीर: टीवी कलाकार अमरीन भट की हत्या का 24 घंटे में लिया बदला, तीन दिन में सुरक्षा बलों ने मारे 10 आतंकीमहरौली में गैस पाइपलाइन में लीकेज के बाद जोरदार धमाका लगी आग, एक घायलमानसून ने अब तक नहीं दी दस्तक, हो सकती है देरखिलाड़ियों को भगाकर स्टेडियम में कुत्ता घुमाने वाले IAS अधिकारी का ट्रांसफर, पति लद्दाख तो पत्नी को भेजा अरुणाचल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.