राजस्थान के इस शहर में भी अब बिना टिकट यात्रियों से भी वसूली जाएगी पेनल्टी

राजस्थान के इस शहर में भी अब बिना टिकट यात्रियों से भी वसूली जाएगी पेनल्टी
Penalties will be collected without ticket passengers in alwar

Rajeev Goyal | Updated: 11 Sep 2017, 06:48:00 AM (IST) Alwar, Rajasthan, India

चालक-परिचालक की सर्विस बुक पर रिमार्क लगा पेनल्टी वसूली जाती थी, लेकिन अब सवारी को भी बराबर का दोषी मान पांच गुना किराया वसूला जाएगा।

 

अलवर. 

चालक-परिचालकों की मिलीभगत से रोडवेज बसों में अब बिना टिकट यात्रा करना आसान नहीं होगा। पकड़े जाने पर रोडवेज अब यात्री से भी पेनल्टी वसूलेगा। ऐसे यात्री से गंतव्य दूरी का पांच गुना किराया लिया जाएगा।

 

राजस्व हानि रोकने एवं बिना टिकट यात्रा पर अंकुश लगाने के लिए रोडवेज ने पैसेन्जर फाल्ट योजना लागू की है। रोडवेज अधिकारियों के अनुसार बिना टिकट यात्रा में जितना दोष चालक-परिचालक का होता है। उतना सवारी भी दोषी होती है। अब तक रोडवेज ऐसे मामलों में केवल बस के चालक-परिचालक के खिलाफ कार्रवाई करता था। चालक-परिचालक की सर्विस बुक पर रिमार्क लगा पेनल्टी वसूली जाती थी, लेकिन अब ऐसे मामलों में सवारी को भी बराबर का दोषी माना जाएगा। उससे यात्रा का पांच गुना किराया वसूला जाएगा।

 

रोडवेज को हो रहा था नुकसान


बसों में बिना टिकट यात्रियों से रोडवेज को हर माह लाखों रुपए का नुकसान हो रहा था। चालक-परिचालक अपने चहेतों को बिना टिकट बसों में बिठा ले जाते थे। कई बार वे सवारियों से पैसे लेकर भी टिकट नहीं काटते थे। निर्धारित किराए से कम राशि लेने के कारण सवारी भी चुप रहती थी। नई व्यवस्था में बस में चढऩे के साथ ही सवारियों को टिकट लेना पड़ेगा। बिना टिकट मिलने पर चालक-परिचालक को बतौर नजराना दी गई उनकी राशि भी जाएगी, साथ में पांच गुना किराया भी देना पड़ेगा।

 

अब रोडवेज बसों में सभी सवारियों को टिकट लेकर बैठना पड़ेगा। जांच के दौरान बिना टिकट मिलने पर सवारी से पांच गुना किराया राशि वसूली जाएगी। बिना टिकट यात्रियों से पेनल्टी वसूलने के सभी फ्लाइंग दस्तों को निर्देश दिए गए हैं।
रामजीलाल मीणा, मुख्य प्रबंधक मत्स्य नगर आगार

डॉ. अनुराग होंगे राजभाषा पुरस्कार से सम्मानित


अलवर. भाषा एवं संस्कृति विभाग हिमाचल प्रदेश के तत्वावधान में हिंदी दिवस २०१७ के अवसर पर आयोजित राज्य स्तरीय हिंदी कार्य साधक प्रतियोगिता में द्वितीय स्थान प्राप्त करने पर लक्ष्मणगढ़ निवासी डॉ. अनुराग विजयवर्गीय को ङ्क्षहदी दिवस पर राजभाषा पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। विजयवर्गीय को यह सम्मान हिन्दी दिवस पर १४ सितम्बर को शिमला में आयोजित समारोह में हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत की ओर से प्रदान किया जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned