लोगों ने उर्जा मंत्री के सामने ही कर दी बिजली विभाग की शिकायत, जानिए क्या कहा?

लोगों ने उर्जा मंत्री के सामने ही कर दी बिजली विभाग की शिकायत, जानिए क्या कहा?

Rajeev Goyal | Updated: 14 Dec 2017, 02:18:57 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

अलवर आए उर्जा मंत्री पुष्पेन्द्र सिंह की जनसुनवाई में बोले लोग, बिजली चोरी नहीं की, फिर भी हमारी वीसीआर काट दी।

मंत्रीजी, हमने बिजली चोरी नहीं की, फिर भी निगम अधिकारियों ने हमारी वीसीआर भर दी। जब हम निगम कार्यालय गए तो कहते हैं कि आपको यह जमा करानी पड़ेगी। यह तो सरासर अन्याय है।


बुधवार को सर्किट हाउस में अलवर ग्रामीण क्षेत्र की विद्युत संबंधी समस्याओं की सुनवाई के दौरान ऊर्जा राज्यमंत्री पुष्पेन्द्र सिंह के सामने सबसे अधिक एेसी ही शिकायतें आई। बिजली से संबंधित शिकायतें लेकर भाजपा कार्यकर्ता भी जनसुनवाई में पहुंचे और ऊर्जा राज्यमंत्री को अपनी परिवेदनाएं दीं।

जनसुनवाई में सालपुर सरपंच ने विद्युत आपूर्ति सुचारू रूप से कराने तथा रुंध (उमरैण) सरपंच ने उमरैण पंचायत समिति में सहायक अभियंता कार्यालय खोलने की मांग की। इस दौरान ऊर्जा राज्यमंत्री ने कुछ परिवेदनाओं का मौके पर ही निस्तारण कराया, वहीं कुछ परिवेदनाओं का अतिशीघ्र निराकरण के निर्देश दिए।

बिजली कटौती की समस्या बताई


लोगों ने मंत्री की जनसुनवाई के दौरान वीसीआर की समस्या के बाद लाइट न आने की समस्या भी बताई। लोगों ने मंत्री से शिकायत करते हुए कहा कि दिवाली के दिनों में भी उनके इलाके में कई घंटों तक बिजली की कटौती रही थी। इसके साथ ही लोगों ने सर्दियों में हो रही बिजली कटौती के लिए भी मंत्री से शिकायत की। वहीं मंत्री ने लोगों को भरोसा दिलाया है कि उनकी समस्याओं का निरकरण जल्द से जल्द किया जाएगा व सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश भी दिए जाएंगे। अलवर में ट्रांसफार्मर को लेकर भी लोगों ने मंत्री से शिकायत की।

उनके कार्यालय से भी उन्हें फोन के माध्यम से सूचित किया जाएगा। ऊर्जा राज्यमंत्री ने माना कि अलवर सहित प्रदेश में बड़ी संख्या में फर्जी ट्रांसफार्मर लगे हैं। उन्होंने बताया कि इनकी पहचान के लिए सर्वे कराया जा रहा है। फर्जी ट्रांसफार्मर उतारे जा रहे हैं। इस मौके पर अलवर ग्रामीण विधायक जयराम जाटव, यूआईटी चेयरमैन देवी सिंह शेखावत, भाजपा जिलाध्यक्ष धर्मवीर शर्मा सहित निगम अधिकारी मौजूद थे।

 

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned