नीमराणा में ज्वेलर से लूट का आखिरी आरोपित काणा गुर्जर गिरफ्तार, यहां छिपा हुआ था

Rajeev Goyal

Publish: Feb, 15 2018 06:19:45 PM (IST)

Alwar, Rajasthan, India
नीमराणा में ज्वेलर से लूट का आखिरी आरोपित काणा गुर्जर गिरफ्तार, यहां छिपा हुआ था

अलवर पुलिस ने नीमराणा में ज्वेलर की दुकान में लूट के अंतिम आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

अलवर. नीमराणा में ज्वेलर से लूट के चौथे व आखिरी आरोपित हरीश गुर्जर उर्फ काणा को पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। काणा हरिया गैंग का सक्रिय सदस्य था और करीब 5-6 साल से हरिया गैंग से जुड़ा हुआ था। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीमराणा हिमांशु ने बताया कि नीमराणा में ज्वेलर से लूट की वारदात में हरिया सहित चार बदमाश शामिल थे। इनमें से एक आरोपित किशनगढ़बास के तरवाला निवासी वीरसिंह पुत्र पतराम गुर्जर वारदात के दौरान कार में बैठा रहा और प्रत्येक आने-जाने वाले पर नजर बनाए रहा। मामले में आरोपित वीरसिंह को पुलिस पूर्व में ही गिरफ्तार कर चुकी थी।

वारदात में शामिल एक अन्य आरोपित अरुण उर्फ निर्भय गुर्जर को पुलिस ने वारदात के 80 घंटे के भीतर मार गिराया। इसके बाद गैंग का सरगना हरिया व हरीश गुर्जर उर्फ काणा की पुलिस को तलाश थी। हरिया को मंगलवार रात पलवल पुलिस ने दिल्ली के समीप दबोच लिया। मामले के चौथे व आखिरी आरोपित सेक्टर 86 नोयडा निवासी हरीश गुर्जर उर्फ हरीश खारी उर्फ काणा पुत्र गज्जू गुर्जर को नीमराणा पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के अनुसार वारदात के बाद से काणा भागता फिर रहा था। पुलिस ने इसे हरियाणा के घीलोठ के पास से गिरफ्तार किया। इसके कब्जे से पुलिस ने एक देशी कट्टा व बाइक भी बरामद की। उधर, पुलिस टीम की इस उपलब्धि पर जिला पुलिस अधीक्षक राहुल प्रकाश ने टीम में शामिल सभी सदस्यों के लिए पारितोषिक की घोषणा की है।

काणा का भाई भी है अपराधी

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीमराणा ने बताया कि हरीश गुर्जर उर्फ काणा का भाई मनीष भी अपराधी है। मनीष फिलहाल दिल्ली जेल में बंद है। काणा भी शुरुआत से आपराधिक प्रवृत्ति का रहा है। करीब 5-6 साल पहले वह हरिया गैंग से जुड़ गया और उसके साथ मिलकर वारदातें करने लगा। इसके नाम भी कई मामले दर्ज है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned