अलवर: चोरी हो गई थी साइकिल, बच्चे ने खाना-पीना छोड़ दिया, फिर पुलिस ने ढूंढ निकाली तो अब मुस्कुराया

By: Rajiv Goyal

Published: 12 Feb 2018, 03:40 PM IST

Alwar, Rajasthan, India
1/2

अलवर. मम्मी... मेरी साइकिल मिल गई। मेरी साइकिल मिल गई। चहकते नन्हें बच्चों के चेहरे पर खुशी देख पुलिस को भी इतनी खुशी हुई, जिसे शब्दों में बया नहीं किया जा सकता। मामला टपूकड़ा थाना क्षेत्र से जुड़ा है। टपूकड़ा में पिछले तीन-चार माह से छोटे बच्चों की साइकिलें चोरी हो रही थी। परिजन भी साइकिल जैसी छोटी चीज की रिपोर्ट दर्ज कराने से बच रहे थे। लेकिन गुरुवार को जब नन्हें ऋषभ की साइकिल गुम हुई तो वह उदास हो गया। बच्चे ने खेलना-खाना छोड़ दिया और परिजनों से वहीं साइकिल वापस लाने की जिद करने लगा। एक-दो दिन तो परिजन उसे मनाते रहे, लेकिन जब बच्चा नहीं माना तो हारकर वे थाने पहुंचे और मामला दर्ज कराया। परिजनों के साथ बच्चे को आया देख और उसके ‘अंकल साइकिल वापस ला दो’ कहने पर पुलिसकर्मियों का भी दिल पसीज गया। थाना प्रभारी राजेश मीणा ने बताया कि इसके बाद पुलिस ने सारा कामधाम छोड़ बच्चे की साइकिल की तलाशी शुरू की। बाद में पुलिस ने एक नाबालिग को दस्तयाब कर उसके कब्जे से चोरी की नौ साइकिलें बरामद की। पुलिस जब बच्चे की साइकिल लेकर उसके घर पहुंची तो साइकिल को देख बच्चा चकित रह गया। बार-बार उसके मुंह से निकला- मम्मी मेरी साइकिल आ गई। मेरी साइकिल आ गई।

रोज थाने आ रहे बच्चे
थाना प्रभारी ने बताया कि साइकिल बरामद होने के बाद दो दिन से बड़ों से ज्यादा बच्चे थाने आ रहे हैं और साइकिलों को देख कर जा रहे हैं। वहीं, अब तक तीन-चार बच्चे अपनी-अपनी साइकिल लेकर जा भी चुके हैं।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned