पंचायतों के नीति विरुद्ध परिसीमन के विरोध में विरोध प्रदर्शन

एसडीएम कार्यालय के बाहर जताया रोष

अलवर/कोटकासिम. कोटकासिम पंचायत समिति की कई ग्राम पंचायतों के नीति विरुद्ध परिसीमन के विरोध में सोमवार को ग्रामीणों ने एसडीएम कार्यालय के सामने धरना देकर विरोध प्रदर्शन किया।
कायमपुर जोखावास, तुर्कवास, गोकलपुर, मैनावास, चौकी, दायिका व बीलियावास ग्राम पंचायत सहित आधा दर्जन से अधिक गांवों के ग्रामीणों ने एकत्रित होकर एडवोकेट भूपेंद्र यादव के नेतृत्व में एसडीएम कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन कर धरना दिया। इस अवसर पर तहसीलदार भरतलाल कटारा को ग्राम पंचायतों के गलत परिसीमन को लेकर ज्ञापन सांैपा गया। ज्ञापन में परिसीमन दुरुस्त नहीं करने पर बेमियादी धरना व चक्काजाम आंदोलन की चेतावनी दी गई है, जिसकी जवाबदारी प्रशासन की होगी। ग्रामीणों ने स्थानीय प्रशासन एवं विभाग पर आरोप लगाया कि पंचायत समिति की ग्राम पंचायतों का परिसीमन एवं पुनर्गठन नीति विरुद्ध किया गया है। जिससे क्षेत्र के ग्रामीणों में भारी रोष व्याप्त है।
ग्रामीणों ने बताया कि नीति विरुद्ध परिसीमन दुरुस्त करने के लिए ग्राम पंचायतों के जनप्रतिनिधि एवं प्रबुद्ध नागरिकों ने पूर्व में भी स्थानीय प्रशासन को ज्ञापन देकर अवगत कराया था, लेकिन प्रशासन ने सत्ता के प्रभाव में इस पर ध्यान नहीं दिया। जिससे ग्रामीणों में भारी रोष है। अपनी मांगों को लेकर सोमवार को कई ग्रामीणों ने लामबंद होकर एसडीएम कार्यालय के बाहर धरना-प्रदर्शन भी किया। एडवोकेट भूपेंद्र यादव ने बताया कि गत दिनों ग्राम पंचायतों का नियम विरुद्ध पुनर्गठन से अधिकतर ग्राम पंचायतों से ग्रामीण संतुष्ट नहीं हैं। इसको लेकर स्थानीय प्रशासन को बार-बार अवगत कराने के बाद भी ध्यान नहीं दिया जा रहा, इससे ग्राम पंचायतों के अधीनस्थ गांवों के ग्रामीण नाराज हंै और बार-बार प्रशासन से मांग कर रहे हैं। प्रशासन ग्रामीणों की समस्या पर ध्यान नहीं दे रहा है। अगर ऐसा ही हाल रहा तो ग्रामीण मजबूरन मुख्यालय पर आंदोलन को मजबूर होंगे। धरना-प्रदर्शन में रविंद्र यादव भीलियावास, ईश्वरलाल, अमरसिंह पंच, रामनिवास पंच, पूर्व सरपंच कंवरसिंह, मनोज, उपसरपंच लालसिंह भगत, राजेश, सुधीर, उपप्रधान, विजय व विनोद सहित कई दर्जन ग्रामीणों ने एकत्रित होकर धरना प्रदर्शन में शामिल रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned