पंचायत चुनाव: राजस्थान में यहां ग्रामीणों ने किया चुनाव का बहिष्कार, सुबह से नहीं डला एक भी वोट

Panchayat Elections Boycott: ग्रामीणों ने पंचायत चुनाव का बहिष्कार किया है। बूथ पर सुबह से एक भी वोट नहीं डाला गया है।

अलवर. प्रदेश में बुधवार को दूसरे चरण के पंचायत चुनाव के लिए मतदान हो रहा है। अधिकांश पोलिंग बूथों पर सुबह से ही कतारें लगी हुई है। लेकिन अलवर जिले के रामगढ़ उपखंड के करिरीया गांव के मतदाताओं ने मतदान का बहिष्कार कर दिया। मतदाताओं ने करीरिया स्कूल के बाहर एकत्रित होकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। मतदानाओं के बहिष्कार का कारण पंचायत समिति का पुर्नगठन करना है। मतदाताओं का कहना की उनका गांव पहले ऊंटवाल ग्राम पंचायत में आता था लेकिन पुनर्गठन में उनके गांव में 7 किलोमीटर दूर बेराबास ग्राम पंचायत में जोड़ दिया गया है। इसकी पूर्व में प्रसासन को कई बार शिकायत की गई थी लेकिन उनकी सुनवाई नही हुई इसलिए सभी ग्रामीणों ने मतदान का बहिष्कार कर दिया है।

समझाइश के बाद भी नहीं माने ग्रामीण

मतदान के बहिष्कार की सूचना के बाद प्रशासन के अधिकारियों ने समझाइश भी की लेकिन मतदाताओं का अभी तक बहिष्कार जारी है। गांव में 700 से अधिक मतदाता शामिल है जिन्होंने बहिष्कार किया है।
ग्रामीणों ने बताया कि जबतक उनकी मांग पूरी नहीं होगी, तब तक वे मतदान नहीं करेंगे। ग्रामीणा ने कहा कि उनका आगामी चुनावों में भी बहिष्कार जारी रहेगा।
गौरतलब है कि पुर्नगठन में इस बार बेराबास करीरिया ओर नकचपुर गांव को जोड़कर नई ग्राम पंचायत बनाई थी जिसका लगातार विरोध हो रहा है।

Lubhavan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned