शर्मनाक: राजस्थान पुलिस का हैड कांस्टेबल गायों की तस्करी कर ले जा रहा था हरियाणा, गिरफ्तार किया

जयपुर में तैनात राजस्थान पुलिस का हेड कांस्टेबल गोवंश की तस्करी कर रहा था, उसे गिरफ्तार किया गया।

By: Lubhavan

Published: 10 Jan 2021, 11:36 AM IST

अलवर. राजस्थान पुलिस और अपराधियों के बीच किस तरह सांठ-गांठ चल रही है, इसका एक और शर्मनाक उदाहरण सामने आया है। पुलिस ने गोकशी के लिए ले जा रहे गोवंश पकडे हैं। इन्हें कोई अपराधी नहीं, बल्कि राजस्थान पुलिस का कांस्टेबल ले जा रहा था। अलवर जिले के गोविंदगढ़ कस्बे के रेलवे फाटक के समीप दिन में गोकशी के लिए हरियाणा ले जाए जा रहे 11 गोवंश को मुक्त कराकर तीन गो तस्करों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है । गिरफ्तार आरोपियों में एक जयपुर में तैनात पुलिसकर्मी है।

थाना प्रभारी चंद्रशेखर शर्मा ने बताया कि सुबह सूचना मिली की दो पिकअप गाडिय़ों में गोवंश ले जाया जा रहा है । कस्बे के रेलवे फाटक के समीप दो पिकअप गाडिय़ां आती हुई दिखाई दी जिन्हें पुलिस ने रुकवाया। एक गाड़ी में तीन गाय व दो बछड़े व दूसरी गाड़ी में तीन गाय व 3 बछड़े मिले। पूछताछ करने पर वह कोई जवाब नहीं दे पाए और भागने की कोशिश करने लगे । पुलिस तीनों गोतस्करों को पिकअप गाड़ी सहित थाने लेकर आई व उनसे पूछताछ करने पर उन्होंने यह गोवंश गोकशी के लिए हरियाणा ले जाना स्वीकार किया। इनमें एक गोतस्कर बाबूलाल पुत्र सुराराम ब्राह्मण निवासी नयाबास थाना जमवारामगढ़ है, इसकी तलाशी लेने पर इसके पास एक आई कार्ड मिला है जिसमं यह राजस्थान पुलिस में हेड कांस्टेबल है और पुलिस लाइन जयपुर में कार्यरत है। बाबूलाल गाड़ी का ड्राइवर है। इसके अलावा दूसरा गोतस्कर भंवर सिंह पुत्र जगदेव सिंह निवासी मढैया थाना डिग्गी जिला टोंक व तीसरा आरोपी इस्लाम पुत्र फज़रू निवासी पिनगवां जिला नूह हरियाणा है जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गोवंशों को गोशाला भिजवा दिया है।

गाड़ी पर पुलिस का लोगो

गोतस्करी कर ले जा रहे वाहन पर राजस्थान पुलिस का लोगो तक बना हुआ था। पिकअप के आगे व पीछे राजस्थान पुलिस का लोगो लगाया हुआ है, जिससे वह किसी कार्रवाई से बच सके।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned