राजस्थान रोडवेज में यात्रा करने वाले हो जाएं सावधान , बसें कभी भी दे सकती हैं धोखा

राजस्थान रोडवेज में यात्रा करने वाले हो जाएं सावधान , बसें कभी भी दे सकती हैं धोखा

Rajeev Goyal | Updated: 04 Dec 2017, 01:28:42 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

राजस्थान रोडवेज की हालत तो सभी को पता है, लेकिन इस समय अलवर में जो रोडवेज बसों का जो हाल है वो आपको जरूर देखना चाहिए।

राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की भांति उसकी बसों की भी हालत हो गई है। नई बसों को छोड़ दें तो रोडवेज की ज्यादातर बसें कंडम वाहनों के भरोसे दौड़ रही हैं। किसी में कंडम वाहन का इंजन लगा है तो किसी में पहिये। कब धोखा दे जाए, किसी को पता नहीं है। उधर, बसों से पाट्र्स निकालने से कंडम बसें और भी कंडम हो गई हैं।
एेसे में इन बसों को नीलामी के लिए जयपुर या अजमेर पहुंचना भी मुश्किल हो गया है। जानकारी के अनुसार अकेले अलवर में हाल ही रोडवेज की करीब 40 बसें कंडम हुई हैं। पहले इन बसों को रोडवेज ने अजमेर स्थित वर्कशॉप भेजना चाहा, लेकिन वहां जगह के अभाव में इन्हें स्थानीय डिपो में ही खड़ा कर दिया गया। मुख्यालय से पाट्र्सों की आपूर्ति नहीं होने पर स्थानीय अधिकारियों को जब बसें चलाना मुश्किल हुआ तो उन्होंने इन बसों के पाट्र्सों को खोलना कसवाना शुरू करा दिया। किसी का इंजन, किसी के पहिये लगा कर रोडवेज ने अपनी गाड़ी तो चला ली, लेकिन यात्रियों की मंगलमय यात्रा को अमंगलमय कर दिया।

रोजाना हो रही बसें खराब

किसी का इंजन, किसी के पहिये लगा दौड़ रही रोडवेज बसों का खराब होना अब आम बात हो गई हैं। स्थिति ये है कि रोजाना रोडवेज की दो-तीन बसें रास्ते में दम तोड़ जाती हैं। इसका खमियाजा इनमें सवार यात्रियों को भुगतना पड़ता है। मजबूरन उन्हें दूसरे वाहन का इंतजार कर यात्रा पूरी करनी पड़ती है।

कई सालों से नहीं आई नई बसें

बड़ी संख्या में रोडवेज बसों के कंडम होने का एक कारण कई सालों से नई बसों की खरीद नहीं होना हैं। रोडवेज ने नई बसें तो खरीदी नहीं और पुरानी एक-एक कर कंडम होती चली गई। हाल ही सरकार ने अनुबंधित बसों को रोडवेज बेडे में शामिल किया, लेकिन इन बसों से होने वाली कमाई भी दूसरे के खाते में चली गई। इससे रोडवेज की माली हालत जैसी की तैसी बनी रही।

ये हैं हालात
मत्स्य नगर आगार में ऑन रूट बसें - 100
आगार में कंडम बसें - 19
अलवर आगार में ऑन रूट बसें - 123
आगार में कंडम बसें - 21

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned