राजस्थान: महिला ने दलाल के साथ मिलकर लगाया बलात्कार का झूठा आरोप, फिर मांगने लगे लाखों रूपए

महिला ने दलाल व वकील के साथ मिलकर एक व्यक्ति के ऊपर बलात्कार का झूठा आरोप लगाया और रूपए ऐंठने का प्रयास किया। पुलिस ने मामला दर्ज किया है।

By: Lubhavan

Published: 03 May 2021, 11:55 AM IST

अलवर . अलवर जिले के खेरली थाने में बलात्कार का झूठा आरोप लगाकर रुपए की ठगी करने के मामले में एक महिला, उसके दलाल के रूप में एक मित्र व दो वकीलों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। थानाधिकारी सज्जन कुमार ने बताया कि आयुर्वेद विभाग से उपनिदेशक के पद से सेवानिवृत्त स्थानीय निवासी डॉ. केदारनाथ पांडेय ने मामला दर्ज कराया कि वो अपने इलाके में निजी क्लीनिक चलाते हैं । गत 21 अप्रेल को समीपवर्ती ग्राम भैरूवास निवासी तथा हाल स्थानीय निवासी संतो मीना उर्फ जेईएन नाम की महिला अपने मित्र समीपवर्ती ग्राम सौंखरी निवासी आशीष अवस्थी के साथ उनके क्लीनिक पर आई तथा उन पर बलात्कार का झूठा आरोप लगाने की धमकी दी। बलात्कार का मामला दर्ज नहीं कराने की एवज में उनसे 8 लाख रुपए की मांग करने लगे। इसके बाद 24 अप्रेल को संतो ने अपने मित्र आशीष अवस्थी के साथ मुझसे जबरदस्ती कर 20 हजार छीन लिए। साथ ही आशीष ने मेरा मोबाइल भी छीन लिया।

इस घटना के बाद 26 अप्रेल को दो व्यक्ति जिनमें समीपवर्ती ग्राम अरूवा निवासी सुभाष शर्मा तथा मथुराहेड़ा निवासी रूपकिशोर शर्मा जो कि पेशे से वकील हैं, वो क्लीनिक पर आए तथा उक्त महिला द्वारा मेरे खिलाफ बलात्कार का आरोप लगाकर मुझसे पैसे देने के लिए मानसिक दबाव बनाने लगे। उन वकीलों ने ये भी बताया कि महिला संतों मीना सहित हम लोगों ने अब तक बहुत लोगों पर इस तरह के मामले दर्ज कराए हैं, जिन्हें बाद में लेनदेन करके ही खत्म किया गया। परिवादी ने प्राथमिकी में ये भी बताया कि करीब 18 माह पूर्व समीपवर्ती ग्राम पंचायत कालवाड़ी के ग्राम धनोखरा निवासी बच्चूसिंह चौधरी पर भी इसी महिला व इसके परिवार की अन्य महिलाओं के द्वारा इसी प्रकार का बलात्कार का झूठा मुकदमा दर्ज कराकर करीब साढ़े सात लाख रुपए हड़प लिए थे। जिससे आहत होकर परिवादी ने उक्त मामले की शिकायत स्थानीय थाने में दर्ज कराई। साथ ही परिवादी ने प्राथमिकी के साथ ही आरोपितों द्वारा उसे फोन पर धमकी देने के ऑडियो रिकॉर्डिंग भी पुलिस को सौंपी है। पुलिस ने जबरन वसूली करने के आरोप में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

वहीं मामले में थानाधिकारी ने बताया कि उक्त महिला संतो मीना ने भी एक प्राथमिकी डॉ. केदारनाथ पांडेय के खिलाफ दर्ज कराई गई है। जिसमें उसने जातिसूचक शब्दों के उपयोग के साथ महिला के साथ जबरदस्ती बलात्कार करने का आरोप लगाया है। वहीं महिला के बारे में जानकारी प्राप्त करने पर पता चला है कि उक्त महिला द्वारा अब तक कई लोगों पर इस तरह के झूठे आरोप लगाकर उनसे रुपए हड़पे हैं । अभी महिला द्वारा दिए गए मामले में लक्ष्मणगढ़ सीओ व केदारनाथ पांडेय वाले मामले में स्थानीय पुलिस अनुसंधान कर रही है।

Lubhavan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned