नियम के मुताबिक रामगढ़ रोड सात साल पहले होना चाहिए थे फोर लेन, सरकार ने सिर्फ आश्वासन दिए

नियम के मुताबिक रामगढ़ रोड सात साल पहले होना चाहिए थे फोर लेन, सरकार ने सिर्फ आश्वासन दिए

Lubhavan Joshi | Updated: 22 Jul 2019, 03:11:22 PM (IST) Alwar, Alwar, Rajasthan, India

Alwar ramgarh Road : अलवर-रामगढ़ रोड चार साल पहले ही फोरलेन होना चाहिए था, लेकिन सरकार से केवल आश्वासन मिलते रहे।

अलवर. रामगढ़ रोड ( ramgarh road ) पर पिछले करीब पांच साल से फोर लेन की जरूरत है लेकिन आवश्यकता की अनदेखी होने से इस रोड पर पिछले सालों में हुई दुर्घटनाओं में ( accident in alwar ) सैकड़ों लोग बेमौत मारे गए। इस रोड को फोर लेन में बदलने की अपेक्षा सरकार सिर्फ आश्वासन देकर टरका रही है।

क्या है पीसीयू

रोड पर पैसेंजर कार यूनिट की गणना वाहन के अनुसार होती है। कार की पीसीयू वैल्यू 1, मोटरसाइकिल की 0.5, एलसीवी 2.2, बस ट्रक 3.5 व थ्री व्हीलर 0.8 होती है। वाहनों की पीसीयू के अनुसार ट्रैफिक लोड की गणना होती है। जिस भी रोड पर एक दिन में 10 हजार से अधिक पीसीयू हो जाती है उसे फोर लेन किया जाना होता है। रामगढ़ रोड की पीसीयू 10 हजार से काफी अधिक है।

 

इतने ट्रैफिक लोड पर फोर लेन

पीडब्ल्यूडी के अनुसार जिस रोड पर 10 हजार पीसीयू (पैसेंजर कार यूनिट) ट्रैफिक लोड हो जाता है। उस रोड को फोरलेन किया जाता है। रामगढ़ रोड पर इस समय 12 हजार पीसीयू से अधिक ट्रैफिक लोड है। अधिकारियों के अनुसार रामगढ़ रोड पर पिछले करीब पांच से सात साल पहले से फोर लेन जितना ट्रैफिक लोड है।

12 मीटर चौड़ाई समाधान नहीं

एक्सपर्ट के अनुसार रामगढ़ रोड बख्तल की चौकी तक करीब 10 मीटर चौड़ा है। जिसे 12 मीटर चौड़ा किए जाने की तैयारी है। इसके अलावा दो लेन भी बनेंगी। लेकिन, जब तक इस रोड पर डिवाइडर नहीं बनाया जाएगा तब तक दुर्घटनाओं में कमी नहीं आ सकेगी।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned