scriptrr college strike | राजर्षि महाविद्यालय में अनशन जारी, 21 में से 20 मांगें मानी | Patrika News

राजर्षि महाविद्यालय में अनशन जारी, 21 में से 20 मांगें मानी

जिले के सबसे बड़े राजकीय राजर्षि महाविद्यालय के बाहर एबीवीपी का अनशन जारी है। यहां बाहर टैंट लगाकर छात्र एनसीसी की मांग को लेकर धरने पर बैठे हैं। यह धरना तीसरे दिन भी जारी रहा। एबीवीपी के पदाधिकारी राहुल चौहान ने बताया कि यहां छात्र हित में एक भी राजनेता नहीं आया है जिससे छात्रों में रोष है।

अलवर

Published: September 14, 2022 09:57:15 pm

राजर्षि महाविद्यालय में अनशन जारी, 21 में से 20 मांगें मानी
- एनसीसी की मांग पर अड़े एबीवीपी कार्यकर्ता

अलवर.जिले के सबसे बड़े राजकीय राजर्षि महाविद्यालय के बाहर एबीवीपी का अनशन जारी है। यहां बाहर टैंट लगाकर छात्र एनसीसी की मांग को लेकर धरने पर बैठे हैं। यह धरना तीसरे दिन भी जारी रहा। एबीवीपी के पदाधिकारी राहुल चौहान ने बताया कि यहां छात्र हित में एक भी राजनेता नहीं आया है जिससे छात्रों में रोष है। धरने पर प्रणय शर्मा, विशेष जैन, कीर्ति पाल, देव अग्रवाल, रक्षा सैनी, जतिन परमार, बिरजू और मुकुल बैठे।
राजर्षि महाविद्यालय में अनशन जारी, 21 में से 20 मांगें मानी
राजर्षि महाविद्यालय में अनशन जारी, 21 में से 20 मांगें मानी
-----------आमने- सामने :

यह कहते हैं एबीवीपी के इकाई अध्यक्ष-हमारी 21 मांग थी जिसके लिए हमने पत्र प्रिंसीपल को दिया था। इनमें से 20 मांग तो हमारी पूरी हो गई है। महाविद्यालय में पानी की व्यवस्था में सुधार हुआ है और सफाई नियमिति होने लगी है। हमारी 21 में से कुछ मांगों पर तो काम शुरू हो गया है जबकि अन्य मांगों पर कार्रवाई होगी। हमारी लड़ाई अब महाविद्यालय प्रशासन के साथ नहीं बड़े स्तर पर है। कॉलेज में एनसीसी यूनिट खोलने की मांग काफी समय से चल रही है जिस पर सरकार का ध्यान तक नहीं है। हम इस मांग को लेकर आंदोलन को और तेज करेंगे।
- मुकेश यादव, इकाई अध्यक्ष , एबीवीपी।एनसीसी के लिए पत्र लिखे, महाविद्यालय स्तर की सारी मांगें मानी-

हमें छात्रों की ओर से मांग पत्र दिया गया था जिसकी सभी मांगें मान ली हैं। एनसीसी यूनिट खोलने का मामला भारतीय रक्षा मंत्रालय का है जिसके लिए पहले भी बहुत से पत्र लिखे गए हैं। हम पूरी तरह विद्यार्थियों के हितों के साथ हैं जिसमें किसी प्रकार की समस्या हो तो उसका समाधान करवाया जाएगा। एनसीसी का मामला मेरे स्तर का नहीं है जिसके लिए सरकार को लिख दिया है।- प्रो. हुक्म सिंह, प्राचार्य, राजर्षि महाविद्यालय, अलवर।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

EWS आरक्षण पर लगातार 7 वें दिन की सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षितMaharashtra News: ‘स्कूलों में सरस्वती-शारदा मां की पूजा की जरूरत नहीं’, NCP नेता छगन भुजबल का विवादित बयानSanjay Raut: मनी लॉन्ड्रिंग मामले में संजय राउत को नहीं मिली राहत, PMLA कोर्ट ने जमानत पर सुनवाई 10 अक्टूबर तक टालीDadasaheb Phalke Award 2022: केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने किया ऐलान, आशा पारेख को मिलेगा दादा साहेब फाल्के अवॉर्डVideo: असम सीएम हेमंत बिस्वा सरमा बोले- पीएफआई के खिलाफ प्रदेश में लिया बड़ा एक्शनVIDEO: 'भारत जोड़ो यात्रा' का 20वां दिन, मलप्पुरम से निकले राहुल गांधी, अमीर-गरीबी पर कही यह बातVideo: गुजरात के सूरत में नवरात्रि के पहले दिन दिखी गरबे की धूम, जमकर थिरके लोगCM गहलोत को लेकर आलाकमान से बातचीत का सचिन पायलट ने किया खंडन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.