scriptRRBMU Multiple choice question system applicable in examination | मत्स्य विश्वविद्यालय के एग्जाम पैटर्न में बड़ा बदलाव, देखें यहां | Patrika News

मत्स्य विश्वविद्यालय के एग्जाम पैटर्न में बड़ा बदलाव, देखें यहां

locationअलवरPublished: Dec 12, 2023 11:18:01 am

Submitted by:

Rajendra Banjara

अलवर के राजर्षि भर्तृहरि मत्स्य विश्वविद्यालय में प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय, बीकानेर की तरह ही प्रतियोगी परीक्षा के समान आयोजित की जाएगी।

ghgh.jpg

अलवर के राजर्षि भर्तृहरि मत्स्य विश्वविद्यालय में प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय, बीकानेर की तरह ही प्रतियोगी परीक्षा के समान आयोजित की जाएगी। राष्ट्रीय शिक्षा नीति एनईपी के अनुसार, अब से शुरू होने वाली सेमेस्टर परीक्षाओं में प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं के समान बहुविकल्पीय प्रश्न शामिल होंगे।

यह निर्णय 8 दिसंबर को विश्वविद्यालय की अकादमिक परिषद की बैठक के दौरान सर्वसम्मति से लिया गया। फिलहाल, विश्वविद्यालय प्रशासन प्रथम वर्ष की परीक्षाओं के लिए इस बदलाव को लागू करने के लिए राज्यपाल से मंजूरी मांग रहा है।

राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत विश्वविद्यालय में सत्र 2023-24 में सेमेस्टर पद्धति को लागू किया गया है। इससे विद्यार्थियों और शिक्षकों दोनों को आसानी होगी। कारण है कि परीक्षा के दौरान बहु वैकल्पिक प्रश्न आएंगे और ओएमआर सीट को जांचने में समय की बचत होगी, जिससे परिणाम समय पर घोषित किए जा सकेंगे।

ओएमआर सीट में देनी होगी परीक्षा

विश्वविद्यालय की ओर से प्रथम वर्ष स्नातक से बहु वैकल्पिक प्रश्नों की शुरूआत की जाएगी। अब तक विश्वविद्यालय की सभी परीक्षाओं में कापियां भरने का ट्रेंड रहा है। अब विश्वविद्यालय की ओर से परीक्षाएं ओएमआर सीट पर ली जाएंगी। सभी प्रश्न सिलेबस के आधार पर आएंगे। विश्वविद्यालय प्रशासन का यह प्रयोग सफल रहा तो आगामी सभी परीक्षाओं में इस पद्धति को लागू किया जा सकता है।

एमसीक्यू पद्धति होगी लागू

परीक्षा नियंत्रक लखन सिंह यादव ने बताया कि विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से बहु वैकल्पिक पद्धति के अनुसार प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा कराने के लिए पत्र कुलपति की अनुमति के लिए भेजा गया है। राजभवन से स्वीकृति के बाद इस पद्धति के अनुसार परीक्षा आयोजित की जाएगी।

ट्रेंडिंग वीडियो