समागम में शबद कीर्तन सुनकर श्रद्धालु हुए भाव-विभोर

समागम में शबद कीर्तन सुनकर श्रद्धालु हुए भाव-विभोर

| Publish: Mar, 03 2017 09:20:00 AM (IST) Alwar, Rajasthan, India

ज्ञानी संत मस्कीन की स्मृति में अलवर में टैल्को चौक के समीप स्थित गुरुद्वारे में चल रहे तीन दिवसीय 57 वें गुरमत समागम में देश के ख्यातिनाम सिख धर्म के रागी-जत्थों ने शबद कीर्तन किया।

अलवर. ज्ञानी संत  मस्कीन की स्मृति में अलवर में टैल्को चौक के समीप स्थित गुरुद्वारे में चल रहे तीन दिवसीय  57 वें गुरमत समागम में देश के ख्यातिनाम सिख धर्म के रागी-जत्थों ने शबद कीर्तन  किया। यह सुनकर हजारों श्रद्धालु अध्यात्मिक वातावरण में भाव-विभोर हो गए। 


समागम के दूसरे दिन समागम स्थल पर दिन भर अटूट लंगर चला जिसमें काफी संख्या में श्रद्धालु लंगर ग्रहण करने पहुंचे।  यहां सजे कीर्तन दरबार में रागी जत्थों ने गुरमुखी भाषा में शबद कीर्तन कर श्रद्धालुओं को निहाल किया।


 यहां एक दिन में 20 से अधिक ख्याति नाम रागी जत्थों ने शबद कीर्तन किया। शाम को रहीरास साहिब का पाठ हुआ। 


 कई कथावाचकों ने सिख धर्म की महत्ता बताई तो कई लोगों ने संत मस्कीन जी के जीवन दर्शन को बताया। नैरोबी से आए कुलदीप सिंह रागी जत्थे ने भी शबद कीर्तन किया। गुरुवार को दिन भर कीर्तन दरबार सजा जिसमें हजारों श्रद्धालु शबद कीर्तन सुनकर निहाल हुए।


कीर्तन दरबार सजा

समागम के प्रवक्ता अर्शप्रीत सिंह ने बताया कि समागम के दूसरे दिन दोपहर में  कीर्तन दरबार सजा जिसमें सिख सम्पदाय के ख्याति नाम कवियों ने काव्य  पाठ किया। 


इसमें भाग लेने अकाल साहब के जत्थेदार गुरवचन सिंह भी यहां पहुंचे। अमृतसर स्वर्ण मंदिर के हैडग्रंथी जख्तावर सिंह, ग्रंंथी बलविन्द्र सिंह तथा पूर्व जत्थेदार जोगेन्द्र सिंह वेदांती भी शामिल हुए।


आंखों में आंसू आ गए


समागम में जगाधरी हरियाणा से एक जत्था मीरीपीरी खालसा के नाम से आया है जब उन्होंने सिख धर्म के त्याग पर कीर्तन किया तो लोगों की आंखों में आंसू आ गए। इस जत्थे में एक ही परिवार की 4  बहने और उनका एक भाई है। ये बहनें बचपन से ही शबद कीर्तन कर रही हैं।


राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned