अलवर का फौलाद जैसा बेटा सुकमा में नक्सलियों के हमले में देश के लिए हुआ शहीद

Prem Pathak

Publish: Mar, 14 2018 08:44:49 AM (IST)

Alwar, Rajasthan, India
अलवर का फौलाद जैसा बेटा सुकमा में नक्सलियों के हमले में देश के लिए हुआ शहीद

अलवर के मुण्डावर के सुन्दरवाड़ी गांव का जवान छत्तीसगढ़ के सुकमा में आतंकी हमले में शहीद हो गया।

तीन दिन पहले ही छुट्टी से वापस छत्तीसगढ़ में ड्यूटी पर लौटे अलवर जिले के मुण्डावर के सुन्दरवाड़ी गांव निवासी सीआरपीएफ के जवान लक्ष्मण ङ्क्षसह (32) शहीद हो गए। सुकमा में हुए नक्सली हमले में कई जवान शहीद हुए हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार शहीद लक्ष्मण सिंह 10 मार्च को ही खुद के गांव सुन्दरबाड़ी से वापस ड्यूटी पर गए थे। फिलहाल लक्ष्मण सिंह पत्नी व दो बच्चों के साथ अलवर शहर के मोती नगर में खुद के मकान में रह रहे थे। कुछ महीने पहले ही लक्ष्मण सिंह के पिता का निधन हो गया। इसके बाद अब परिवार पर यह पहाड़ टूटने जैसी विपदा आ गई।

लक्ष्मण सिंह वर्ष 2000 में सीआरपीएफ के कांस्टेबल के पद पर भर्ती हुए थे। उनके पिता आसाराम का कुछ माह पहले ही निधन हुआ है। अब परिवार में माता केसर देवी, भाई मांगेराम जो दिल्ली पुलिस में हैं। दूसरा भाई जय सिंह जीआरपी में हैं। तीनों भाईयों में लक्ष्मण सिंह सबसे छोटे थे। लक्ष्मण सिंह दस मार्च को गांव से परिवार के सदस्यों से मिलकर वापस ड्यूटी गए थे।

गांव में छाया शोक

सुकमा में नक्सली हमले की घटना होने के बाद परिवार के सदस्यों को मंगलवार शाम को लक्ष्मण सिंह के शहीद होने की खबर लगी। इसके बाद तो पूरे गांव में शोक छा गया। नक्सली हमले की बड़ी घटना होने के बाद यह समाचारों में बराबर चल रही थी। जिसके कारण ग्रामीणों को इसकी खबर लग गई।

छत्तीसगढ़ कंट्रोल रूम से मिली सूचना

लक्ष्मण के शहीद होने की परिजनों को सूचना छत्तीसगढ़ कंट्रोल रूम से मिली। भाई जयसिंह ने बताया कि कंट्रोल रूम से फोन लक्ष्मण की पत्नी के मोबाइल पर आया। उसने गांव का नम्बर दे दिया। इस पर कंट्रोल रूम से गांव में परिजनों को फोन आया। इस पर जयसिंह सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण अलवर आए और शहीद की पत्नी व बच्चों को ढाढ़स बंधाया।

आज होगा सम्मान से अंतिम संस्कार

शहीद लक्ष्मण सिंह का पार्थिव शरीर बुधवार दोपहर दो बजे तक गांव पहुंचने की संभावना है। इसके बाद उनका सैनिक सम्मान से अंतिम संस्कार किया जाएगा। घटना की खबर लगने के बाद परिवार के सदस्यों को मंगलवार को ही आना शुरू हो गया था।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned