अलवर में बनेगा टीबी वार्ड

 

अलवर में चिंहित होने वाले टीबी रोगियों को अब राहत मिलेगी। अलवर में शीघ्र ही टीबी वार्ड बनाया जाएगा। जिसमें टीबी के गंभीर मरीजों को भर्ती किया जाएगा।अलवर में करीब 11 हजार के लगभग टीबी के रोगी हैवर्तमान में अलवर जिला मुख्यालय पर टीबी क्लिनिक की सुविधा है जहां पर केवल टीबी के मरीजों की रिपोटिँग का काम होता है।

Jyoti Sharma

January, 2112:59 PM

टीबी रोगियों को मिलेगी राहत

अलवर चिकित्सा प्रशासन ने सामान्य अस्पताल में सामान्य रोगियों को टीबी के मरीजों के संक्रमण से बचाने के लिए यह पहल की है। इसके लिए प्रस्ताव तैयार करवाया जा रहा है। टीबी के है 11 हजार मरीज

जबकि करीब 450 के लगभग एमडीआर मरीज है। प्रतिमाह करीब 10 नए मामले टीबी के सामने आ रहे हैं। लेकिन इतना होने के बाद अलग से अस्पताल या वार्ड नहीं है। टीबी क्लिनिक में डाक्टर टीबी के मरीजों को देखने का भी काम करते हैं। जबकि देश केअन्य राज्यों गुजरात व महाराष्ट्र आदि में टीबी मरीजों के लिए अलग से अस्पताल चलाए जाते हैं।एक ही परिसर में ओपीडी व भर्ती की सुविधाअलवर के सामान्य चिकित्सालय के सामने स्थित आईसोलेश वार्ड की जगह पर नया टीबी वार्ड बनाया जाएगा। जो कि दस बैड का होगा। वर्तमान में आइसोलेशन वार्ड में खसराए चेचकए घाव में कीडे पडऩे आदि के मरीज ही भर्ती किए जाते हैं लेकिन इनकी संख्या बहुत कम है। इसलिए इसका ज्यादा उपयोग नहीं हो पा रहा है। ऐसे में यदि यहां टीबी वार्ड बनता है तो एक परिसर में टीबी का इलाज व भर्ती की सुविधा मिलेगी।

यहां वहां जाने की जरुरत नहीं

अभी टीबी के मरीजों को अस्पताल के सामान्य मरीजों के साथ भर्ती किया जाता है जबकि एमडीआर मरीजों को अलग वार्ड में भर्ती किया जाता है। ऐसे में टीबी रोगियों का इलाज करने वाली टीम को अलग अलग जगह पर जाना पडता हैए मरीज व उनकी काउंसलिंग के लिए अगल अलग समय देना पड़ता है। यदि वार्ड बनता है तो सभी मरीज एक ही जगह पर रहेंगे इससे डाक्टर व स्टाफ को भी राहत मिलेगी और टीबी के संक्रमण की आशंका भी नहीं रहेगी।

वर्जन ..

.अलवर में शहर विधायक की ओर से अलवर में टीबी वार्ड बनाने की पहल की जा रही है। यह वार्ड आइसोलेशन वार्ड की जगह पर बनाया जाएगा। टीबी के मरीज एक ही परिसर में रहेंगे। टीबी मरीजों की ओपीडी व भर्ती की सुविधा एक ही परिसर में मिलेगी। अलवर में मरीजों का बेहतर इलाज होगा।

डाक्टर सुशील बत्राए डिप्टी पीएमओए सामान्य चिकित्सालयए अलवर।

Jyoti Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned