नीमराणा के इस राजकीय विद्यालय में तालाबंदी कर शिक्षकों ने अचानक दिया त्यागपत्र, जानें क्या है मामला

नीमराणा के इस राजकीय विद्यालय में तालाबंदी कर शिक्षकों ने अचानक दिया त्यागपत्र, जानें क्या है मामला

Hoshiyaar Singh Yadav | Publish: Jan, 13 2018 04:24:46 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

अलवर के नीमराणा में एक राजकीय विद्यालय के शिक्षकों ने अचानक त्यागपत्र देकर स्कूल में तालाबंदी कर किया प्रदर्शन।

नीमराणा ब्लॉक में भारती फाउण्डेशन की ओर से संचालित 25 राजकीय प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में कार्यरत फाउण्डेशन अधीन संस्था प्रधानों व अध्यापकों ने वेतन वृद्धि व छह माह बाद खत्म हो रहे अपने सर्विस कॉन्ट्रेक्ट के विरोध में शुक्रवार को सामूहिक त्यागपत्र देकर विद्यालय में तालाबंदी कर कार्य बहिष्कार कर दिया। जिससे विद्यालयों में विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित रही और उन्हें शिक्षकों के अभाव में घर लौटना पड़ा।

भारती फाउण्डेशन से जुड़े संस्था प्रधानों व अध्यापको ने बताया कि उन्होंने कार्य बहिष्कार के बाद काली पहाड़ी गांव स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय में बैठक कर फाउण्डेशन प्रबंधन अधिकारी से वार्ता भी की, लेकिन कोई सहमति नहीं बनने से वार्ता विफल रही।

जिसके बाद कर्मचारियों ने मांगे नहीं माने जाने तक अनिश्चितकाल के लिए विद्यालयों का बहिष्कार कर दिया। फाउण्डेशन से जुड़े कर्मचारी महेश यादव, राजेन्द्र, पवन, देवेंद्र, मनीष यादव, कृष्ण शर्मा, राजाराम, प्रवीण, रमेश शर्मा, पिंकी यादव, प्रियंका यादव, जगदीश प्रसाद व पुष्पेन्द्र आदि ने बताया कि 25 विद्यालयों के कर्मचारियों को भारती फाउण्डेशन के उच्चाधिकारियों ने बताया है कि छह माह में ही यहां से अपना प्रोजेक्ट उठा लिया जाएगा और यहां विद्यालयों में कार्यरत कर्मचारियों के स्थान पर अन्य कर्मचारी कार्य करेंगे। जिससे वे सभी सकते में है और विरोध पर उतर आए हैं। उल्लेखनीय है कि भारती फाउण्डेशन की ओर से पीपीपी मोड पर दिए गए इन 25 राजकीय विद्यालयों में अब अध्यापन बहिष्कार से पढ़ रहे करीब 4000 विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित होगी। वहीं, विद्यालयों में पढ़ा रहे 180 कर्मचारी बेरोजगार हो जाएंगे।

मेरी जानकारी में नहीं है कि फाउण्डेशन के संस्था प्रधान या अध्यापक किसी बात को लेकर विरोध में उतरे हैं। पूरी जानकारी कर बताता हूं।
वी.पी. सिंह, राजस्थान रीजनल हेड, एयरटेल भारती फाउण्डेशन

भारती फाउण्डेशन शिक्षकों व संस्था प्रधानों के बहिष्कार या विद्यालय में अध्यापन नहीं होने की कोई जानकारी फाउण्डेशन प्रबंधन की ओर से नहीं मिली है। पता कर उचित कदम उठाए जाएंगे।
श्यामसुंदर यादव, बीईईओ, नीमराणा

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned