scriptThere is a delay in seeds reaching the Agriculture Department, farmers | कृषि विभाग के पास बीज पहुंचने में हो रही देरी, किसान लगा रहे चक्कर | Patrika News

कृषि विभाग के पास बीज पहुंचने में हो रही देरी, किसान लगा रहे चक्कर

locationअलवरPublished: Nov 18, 2023 11:42:40 am

Submitted by:

jitendra kumar

जिले में किसानों के लिए सरकार की ओर से अनुदान का बीज मुहैया करवाया जाता है, लेकिन इस साल किसान बीज के लिए तरस रहे हैं। अलवर जिले में कृषि विभाग की गणना 2015 के अनुसार 4 लाख 37 हजार 219 हैं। इसमें से लघु किसानों की संख्या एक लाख 624 और सीमांत किसानों की संख्या दो लाख 67 हजार 708 हैं। कृषि विभाग की ओर से अब तक जिले में संचालित ग्राम सेवा सहकारी समिति और किसान उत्पादन संगठन पर अनुदान का बीज नहीं पहुंचाया गया है।

कृषि विभाग के पास बीज पहुंचने में हो रही देरी, किसान लगा रहे चक्कर
कृषि विभाग के पास बीज पहुंचने में हो रही देरी, किसान लगा रहे चक्कर
जिले में किसानों के लिए सरकार की ओर से अनुदान का बीज मुहैया करवाया जाता है, लेकिन इस साल किसान बीज के लिए तरस रहे हैं। अलवर जिले में कृषि विभाग की गणना 2015 के अनुसार 4 लाख 37 हजार 219 हैं। इसमें से लघु किसानों की संख्या एक लाख 624 और सीमांत किसानों की संख्या दो लाख 67 हजार 708 हैं। कृषि विभाग की ओर से अब तक जिले में संचालित ग्राम सेवा सहकारी समिति और किसान उत्पादन संगठन पर अनुदान का बीज नहीं पहुंचाया गया है। इसमें कुछ केन्द्रों पर बीज की उपलब्धता है। वहीं किसानों की ओर से रबी फसल में सरसों की बुवाई लगभग पूरी की जा चुकी है और गेहूं की बुवाई जारी है। इसमें कई क्षेत्रों के किसानों ने गेहूं की 50 से 70 फीसदी तक बुवाई कर दी है, लेकिन उन तक अनुदान का बीज नहीं पहुंचा है। किसान पंचायत और केन्द्रों के चक्कर लगा रहे हैं।
इस प्रकार से दिया जाता है अनुदान का बीज : कृषि विभाग की ओर से किसानों के लिए अनुदान बीज देने के कुछ कायदे- नियम हैं। उसके अनुसार ही इसका वितरण किया जाता है। इसमें एक किसान के पास दो हेक्टेयर जमीन के अनुसार ही बीज दिया जाता है। ऐसे किसानों की संख्या लगभग एक लाख 624 है। इसमें कई केन्द्रों से किसानों ने अनुदान का बीज लिया है, लेकिन वो बहुत ही कम है। अब जिले में गेहूं की बुवाई 75 हजार 580 हेक्टेयर पर हो चुकी है तथा सरसों की बुवाई दो लाख 83 हजार 500 में की गई है।
कृषि विभाग के पास बीज का टोटा, सरसों के बीज में भी हुई देरी

कृषि विभाग के पास अनुदान का बीज पहुंचने में देरी हो रही है। संयुक्त निदेशक कृषि विभाग लीला राम जाट ने बताया राष्ट्रीय बीज निगम और राजस्थान बीज कॉपरेशन को बीज की डिमांड भेजी गई है। विभाग बीज के नमूने की जांच करके ही जिले के किसानों के लिए बीज भेजता है। इसमें कुछ देरी हो रही है। जैसे ही बीज जिले में पहुंचता है तो केन्द्रों को भेज दिया जाता है।

ट्रेंडिंग वीडियो