अलवर: सेल टैक्स विभाग के खाते से लाखों रुपए हुए पार, चोरी के पीछे इसका हाथ

अलवर: सेल टैक्स विभाग के खाते से लाखों रुपए हुए पार, चोरी के पीछे इसका हाथ

Rajeev Goyal | Updated: 26 Jan 2018, 02:28:20 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

अलवर में सेल्स टैक्स विभाग के खाते में से चोरों ने 56 लाख 21 हजार रुपए चोरी किए, पुलिस ने एक महिला को इसमें गिरफ्तार किया है।

अलवर. सेल टैक्स विभाग के ऑनलाइन खाते से धोखाधड़ी कर 56 लाख 21 हजार 254 रुपए निकालने का मामला सामने आया है। मामले में सहायक आयुक्त विशेष वृत्त अलवर बाबूलाल पुत्र टुण्डाराम मीणा ने शिवाजी पार्क थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। मामले में पुलिस ने गुरुवार को भरतपुर निवासी एक महिला को गिरफ्तार कर उसके खाते में जमा 32 लाख 77 हजार 331 रुपए को कब्जे में लिया। पुलिस ऑनलाइन धोखाधड़ी के मुख्य आरोपित की तलाश कर रही है।

शिवाजी पार्क थाना प्रभारी विनोद सामरिया ने बताया कि सेल टैक्स विभाग के सहायक आयुक्त बाबूलाल ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि मुख्यालय से संज्ञान में आया कि विशेष वृत्त अलवर से अपंजीकृत व्यवहारी प्रताप कॉलोनी भरतपुर निवासी प्रेमवती को 56 लाख 21 हजार 254 रुपए का 2 नवम्बर 2017 को रिफण्ड जारी हुआ है, जो विभाग की राजविष्टा आईडी पर दिखाई दे रहा है। इस पर उन्होंने राजविष्टा आईडी व एमआईए रिपोर्ट देखी, जिसमें प्रेमवती को रुपए जारी होना पाया गया।

सहायक आयुक्त ने दर्ज रिपोर्ट मेें बताया कि किसी व्यक्ति ने फर्जी आवेदक बनकर रकम हड़पने की नीयत से रिफण्ड प्राप्त कर लिया। मामले की जांच में पता चला कि महिला का खाता कंजोली लाइन भरतपुर स्थित भारतीय स्टेट बैंक में है। जिसमें 32 लाख 77 हजार 331.21 रुपए हैं। इस पर बैंक के शाखा प्रबंधक से मिलकर खाते में जमा रकम को डीडी के जरिये प्राप्त किया गया। थाना प्रभारी ने बताया कि मामले में पुलिस भरतपुर पहुंची, तो पता चला कि प्रेमवती पेंशनर धारी एक बुजुर्ग महिला है। उसका खाता उसकी बेटी लता मीणा आपरेट करती थी। पुलिस ने जब लता से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसके प्रेमी इमरान ने उसे फोन कर एकाउंट नम्बर मांगा था। इसके बाद उसने ही खाते में पैसे डाले। जिसमें से करीब 23 लाख रुपए इमरान ने निकाल लिए। पुलिस ने लता को गिरफ्तार कर उसके प्रेमी इमरान की तलाश शुरू कर दी है।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned