दो क्विंटल नकली मावा-कलाकंद और भारी मात्रा में कच्चा माल बरामद

डोटाना में 5 थानों की पुलिस और खाद्य सुरक्षा अधिकारी की बड़ी कार्रवाई

By: Pradeep

Published: 03 Dec 2019, 05:00 AM IST

अलवर/तिजारा. डोटाना ग्राम में एएसपी अरुण माच्या के निर्देशन में पांच थानों के अधिकारी मय पुलिस टीम तथा क्यूआरटी एवं खाद्य सुरक्षा अधिकारी अलवर के संयुक्त तत्वावधान में छापा मार कर भारी मात्रा में मिलावटी मावा एवं कलाकंद तथा कच्चा माल बरामद किया है।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक माच्या ने बताया कि कई दिनों से ग्राम डोटाना में नकली व मिलावटी मावा और कलाकंद बनाने की सूचना मिल रही थी। जिस पर खाद्य सुरक्षा अधिकारियों के साथ सोमवार को संयुक्त कार्रवाई करते हुए गांव में चल रही करीब 20-22 भट्टियां नष्ट की गई तथा करीब 50 किलो क्रीम व भट्टियों पर बन रहा माल नष्ट किया गया। साथ ही कच्चा माल भी बरामद किया गया। करीब तीन घंटे चली कार्रवाई में वृत्ताधिकारी भिवाड़ी हरिराम कुमावत, दीपिका तिवारी, खाद्य सुरक्षा अधिकारी अलवर आसमदीन, तिजारा थानाधिकारी जितेंद्र नावरिया, एसआई दारासिंह, टपूकड़ा एसएचओ जयप्रकाश, खुशखेड़ा थानाधिकारी रमाशंकर, शेखपुर अहीर थानाधिकारी गौरव प्रधान तथा क्यूआरटी की टीम शामिल रही।
बरामद माल
करीब 20 कट्टे चीनी, 30 कट्टे मिल्क पाउडर, एक ड्रम लिक्विड ग्लूकोज, 20 टिन हल्का रिफाइंड, करीब दो क्विंटल तैयार माल, सूजी के कट्टे और केमिकल बरामद कर जब्त किए गए हैं।
यहां मारा छापा
सहदून उर्फ सहरुन पुत्र अलीजान, फज्जी पुत्र फजरुद्दीन, हनीफ पुत्र लल्लू खां, इस्राइल पुत्र कपूर खां व ताहिर पुत्र सुमेर खां निवासी डोटाना थाना तिजारा के यहां भट्टियों पर बन रहे मावे एवं गोदामों पर कार्रवाई की गई। मौके से पुलिस ने पूछताछ के लिए तीन लोगों को हिरासत में लिया है।
ऐसे बनाते हैं नकली मावा
मिलावटी मावा बनाने में १० प्रतिशत शुद्ध दूध लेकर उसमें ९० फीसदी पाउडर वाला दूध और मिलाया जाता है। चिकनाई के लिए दूध में रिफाइंड ऑयल को मिक्सर से फेंटा जाता है। अक्सर स्टार्च, आयोडीन, शकरकंदी, सिंघाड़े का आटा, आलू, सूजी और मैदा का भी इस्तेमाल होता है। स्टार्च, आयोडीन और आलू इसलिए मिलाया जाता है ताकि उसका वजन बढ़े। वजन बढ़ाने के लिए मावे में आटा भी मिलाया जाता है। नकली मावा असली मावे की तरह दिखे इसके लिए इसमें कुछ केमिकल डाले जाते हैं। इसके बाद सारे मिश्रण को भट्टी पर कढ़ाही चढ़ाकर पानी जलने तक सेका जाता है। जिससे नकली मावा तैयार होता है।

Pradeep Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned