अतिक्रमण से बिगड़ रहा अलवर का स्वरूप, सुंदर बनाने के अपनाना होगा जयपुर और जोधपुर का तरीका

अतिक्रमण से बिगड़ रहा अलवर का स्वरूप, सुंदर बनाने के अपनाना होगा जयपुर और जोधपुर का तरीका

Hiren Joshi | Updated: 04 Jun 2019, 03:42:29 PM (IST) Alwar, Alwar, Rajasthan, India

अतिक्रमण की समस्या अलवर में पिछले कई सालों से बढ़ती जा रही है।

अलवर. जयपुर व जोधपुर की तरह शहर को सुन्दर बनाने के लिए बेतरतीब ढंग से लगे हॉर्डिंग को हटाकर यूनिपोल लगाना ही एकमात्र विकल्प है। सैकड़ों की संख्या में वैध व अवैध हॉर्डिंग मनचाहे जहां खड़े होने के कारण शहर का मूल स्वरूप ही खत्म हो रहा है। जिसके कारण हर दिन शहरवासियों को भी परेशानी झेलनी पड़ रही है।

पैदल व विकलांग व्यक्तियों की परेशानी

शहर में अधिक फुटपाथों पर हॉर्डिंग लगे हैं। इनकी आड़ में अतिक्रमण हो चुके हैं। जिसके कारण स्लिप लेन व फुटपाथ से निकलने की जगह नहीं है। विकलांग व्यक्तियों की ट्राई साइकिल निकलने की जगह भी नहीं छोड़ रखी। पूरा शहर अतिक्रमण की भेंट चढ़ चुका है।

जून माह तक तैयारी का पूरा समय

नगर परिषद प्रशासन चाहे तो जून माह तक नए हॉर्डिंग का टेण्डर किए जाने का समय है। इस बीच यूनिपोल लगाने की शुरूआत हो सकती है। सबसे पहले गौरव पथ की सुध ली जाए। जिसके सबसे बुरे हाल हैं। इसके बाद पूरे शहर के हॉर्डिंग को यूनिपोल में तब्दील करने से शहर की आधी से अधिक सडक़ों से अतिक्रमण हटाने में आसानी हो सकेगी।

खोखा हटाने में मशक्कत

हॉर्डिंग के कारण सोमवार को मण्डी मोड़ से एक अवैध खोखा हटाने में बड़ी मशक्कत करनी पड़ी। नगर परिषद के अधिकारियों ने बताया कि हॉर्डिंग के पीछे अधिक अतिक्रमण है। जिनको हटाने में परेशानी भी ज्यादा होती है। पूरे शहर में इसी तरह हॉर्डिंग से शहर बिगड़ा हुआ है। आधे से अधिक सडक़ें हॉर्डिंग के कारण रुकी पड़ी हैं।

नगर परिषद की बोर्ड की आगामी बैठक में यूनिपोल लगाने का प्रस्ताव लिया जाएगा। इसके तुरंत बाद यूनिपोल लगाने का कार्य कराएंगे। कोशिश यही रहेगी पहले गौरव पथ से सभी हॉर्डिंग हटवाएंगे। अभी ठेका हो भी गया तो उसे निरस्त किया जा सकेगा।
फतेह सिंह मीना, आयुक्त, नगर परिषद अलवर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned