टैंकरों के भरोसे अलवर के चार लाख निवासी, कैसे बुझेगी गर्मियों में प्यास



टैंकरों के भरोसे अलवर के चार लाख निवासी, कैसे बुझेगी गर्मियों में प्यास

| Publish: Mar, 26 2017 07:44:00 PM (IST) Alwar, Rajasthan, India

अब आगामी पांच माह अलवर शहर के चार लाख निवासियों को पानी के लिए टैंकरों के भरोसे रहना पड़ेगा। सर्दी के मौसम में जलदाय विभाग पानी की डिमाण्ड पूरी नहीं कर पाता है

अलवर. अब आगामी पांच माह शहर के चार लाख निवासियों को पानी के लिए टैंकरों के भरोसे रहना पड़ेगा। सर्दी के मौसम में जलदाय विभाग पानी की डिमाण्ड पूरी नहीं कर पाता है। एेसे में गर्मी के मौसम में लोगों की पानी की डिमाण्ड कैसे पूरी होगी यह एक बड़ा सवाल बना हुआ है। समय से पहले मौसम में हुए बदलाव ने परेशानी और बढ़ा दी है। गर्मी के लिए जलदाय विभाग ने शहर में विभिन्न जगहों पर सात नए टयूबवैल खोदने की योजना बनायी थी। इनमें से केवल दो ट्यूबवैल खोदने की प्रक्रिया चल रही है।



135 लीटर पानी मिले


नियम के हिसाब से शहरी क्षेत्र में प्रत्येक व्यक्ति को 135 लीटर पानी प्रतिदिन मिलना चाहिए। शहर की आवादी करीब चार लाख है। इस हिसाब से शहर में 54 एमएलडी पानी की जरूरत होती है। जबकि जलदाय विभाग 20 से 25 एमएलडी पानी सप्लाई कर पाता है। गर्मी में यह डिमाण्ड 60 एमएलडी के आसपास पहुंच जाती है।



कोई विकल्प नहीं


जलदाय विभाग के पास पानी उत्पादन बढ़ाने के लिए कोई विकल्प नहीं है। एेसे में जलदाय विभाग केवल टैंकरों के भरोसे रहता है। शहर में टैंकरों से पानी सप्लाई के लिए जलदाय विभाग के मुख्यालय व जिला प्रशासन से अनुमति मिल चुकी है। जलदाय विभाग को शहरी क्षेत्र में सात टयूबवैल गर्मी से पहले खोदने थे। लेकिन अब तक केवल दो टयूबवैल खोदने की प्रक्रिया चल रही है। अन्य टयूबवैल कब तक खुदेंगे। यह कुछ कहा नहीं जा सकता है। इससे साफ है कि अप्रेल, मई, जून, जुलाई व अगस्त माह तक लोगों को पानी के लिए परेशान होना पड़ेगा।



गंदे पानी से परेशान हैं लोग


शहर की दर्जनों कॉलोनी व क्षेत्रों में इन दिनों गंदा पानी सप्लाई हो रहा है। इनमें संजय कॉलोनी, मनुमार्ग, नयाबास, साउथ वेस्ट ब्लाक, फ्रेंड्स कॉलोनी सहित विभिन्न एरियों के दूषित पानी सप्लाई होता है। इसका मुख्य कारण पाइप लाइन में पानी नहीं होता है। एेसे में लोग जैसे ही मोटर चलाते हैं। लीकेज लाइन से दूषित पानी लोगों के घरों तक पहुंच जाता है।



पुराने मोहल्लों में दिक्कत


शहर के पुराने मोहल्लों में पानी संकट मंडराने लगा है। रातभर लोग पानी के इंतजार में रहते हैं। मालन की गली, ब्रह्मचारी मोहल्ला, करोली कुंड सहित दर्जनों मोहल्ले पानी की कमी से ग्रस्त हैं। जबकि कुछ क्षेत्रों में 5 से 6 मिनट पानी सप्लाई हो रहा है। एेसे में घरों की टंकी तक नहीं भर पाती है।



टैंकरों सेवा शुरू


जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता शिव सिंह का कहना है कि दो टयूबवैल खोदने की प्रक्रिया चल रही है। अन्य भी जल्द ही खोदे जाएंगे। टैंकरों से पानी  सप्लाई करना भी शुरू कर दिया गया है। जिन क्षेत्रों में पानी की दिक्कत है, वहां टैंकरों से पानी सप्लाई किया जा रहा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned