scriptनलों में नहीं, लोगों की आंखों में आ रहा पानी, अ धिकारियों को नजर नहीं आ रही परेशानी….पढ़ें यह न्यूज | Patrika News
अलवर

नलों में नहीं, लोगों की आंखों में आ रहा पानी, अ धिकारियों को नजर नहीं आ रही परेशानी….पढ़ें यह न्यूज

उपभोक्ताओं का आक्रोश यह कि हर माह बिल जमा कराने के बावजूद नलों में 10 मिनट में दो बाल्टी आ रहा जल।

अलवरMay 24, 2024 / 08:33 pm

Ramkaran Katariya

अलवर. जिले की अलावड़ा ग्राम पंचायत में पीने के पानी की समस्या गहराती जा रही है। भीषण गर्मी में लोगों की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही। राजस्थान पत्रिका टीम ने कई वार्डों में जाकर जलापूर्ति का जायजा लिया तो लोग पानी के लिए परेशान होते नजर आए। लोगों ने आरोप लगाया कि सरकार व जिम्मेदार अ​धिकारियों को उनकी परेशानी नजर नहीं आ रही है। 
इस दौरान लोगों ने बताया कि जलदाय विभाग की ओर से ग्राम पंचायत में हर घर नल से जल योजना के तहत घर-घर नल लगाकर पानी पहुंचाने का काम चल रहा है, लेकिन योजना की जमीनी हकीकत कुछ और ही बयां करती है। कस्बे के अनेक वार्डवासियों का कहना है कि पेयजल समस्या के समाधान को लेकर सरकार की ओर से करोड़ों खर्च किए जाते हैं, फिर भी लोग प्यास बुझाने के लिए पानी खरीदना पड़ता है। हैंडपंप और बोरवेल नहीं होने से लोग रोजाना सुबह 5 बजे नलों पर टकटकी लगाए बैठे रहते हैं। उसके बावजूद 5 से 10 दिन में मिलने वाला पानी समय पर नहीं आता और आता भी है तो 10 मिनट में सिर्फ दो बाल्टी ही पानी नसीब नहीं हो पाता है। ऐसे में ग्रामीण 2 से 3 किलोमीटर दूसरे गांव और कृषि के बोरवेल से पानी की व्यवस्था करते हैं। कुछ महंगे दामों में 600 से 700 रुपए में टैंकर डलवा रहे हैं। सर्दी हो या भीषण गर्मी, पानी की किल्लत से लोगों में आक्रोश है। उनका कहना है कि वे नियमित रूप से बिल जमा करा रहे हैं, पर महीने में दो से 3 बार ही पानी नलों में आता है, वह भी 5 से 10 मिनट के लिए। दूसरी ओर सबसे अधिक समस्या वार्ड सात प्रजापत मोहल्ले में में है। लोगों के अनुसार शिकायत के बावजूद अधिकारी-कर्मचारी ध्यान नहीं दे रहे।
कस्बा अलावडा की पेयजल सप्लाई को विभाग ने कई मोहल्लों में बांटकर प्रतिदिन दो जोन में पेयजल सप्लाई की जाती है। सबसे अधिक कनेक्शन वाले मोहल्ले में बराबर समय एक एक घंटे सप्लाई दी जाती है, जिससे कम कनेक्शन वाली साइड के लोग तो संतुष्ट रहते हैं, लेकिन दूसरी तरफ सबसे अधिक कनेक्शन वाली लाइन गुरुद्वारा से प्रजापत मोहहल्ले तक एक घंटे सप्लाई देने के बावजूद अंतिम छोर तक पेयजल सप्लाई नहीं पहुंच पाती है, जबकि आगे वाले उपभोक्ता विद्युत मोटर चला कर सारा पानी पाइप से खींच लेते हैं। नलों में पानी नहीं आने की समस्या को लेकर अनेक बार प्रजापत मोहल्ले के लोगों ने रामगढ़ सहायक अभियंता बचनसिंह मीणा से शिकायत की, लेकिन समाधान नहीं हुआ, जिसके कारण पानी को लेकर त्राहि-त्राहि मची हुई है।
नलों में आती है हवा

अलावड़ा ग्राम पंचायत में करीब 600 से अधिक नल कनेक्शन हैं। इनमें से वर्तमान में कुछ कनेक्शन चालू है और कुछ बंद हैं। पहले नलों में पानी आता था, पर अब हवा ही आ रही है। मंत्री से लेकर उच्च अधिकारियों को अवगत कराने के बाद भी समस्या जस की तस है। राज्य सरकार ने पेयजल समस्या की शिकायत दर्ज कराने के लिए दिए गए टोल फ्री नंबर मिलता ही नहीं। अक्सर बिजी रहता है। यदि मिल भी जाता है तो कोई रिसीव नहीं करता।
समाधान करेंगे शीघ्र

मामले में सहायक अभियंता बच्चनसिंह मीणा का कहना है कि अलावड़ा कस्बे में जल जीवन मिशन का कार्य चल रहा है, उसका कार्य जल्दी पूरा हो जाएगा। पानी की समस्या का अति शीघ्र समाधान हो जाएगा।

Hindi News/ Alwar / नलों में नहीं, लोगों की आंखों में आ रहा पानी, अ धिकारियों को नजर नहीं आ रही परेशानी….पढ़ें यह न्यूज

ट्रेंडिंग वीडियो