करवा चौथ पर महिलाओं ने की पति की दीर्घायु की कामना

महिलाओं ने श्रद्धापूर्वक मनाया करवा चौथ का पर्व

अलवर. सकट कस्बा स्थित चौथ माता मंदिर मेें गुरुवार को सुहागिन महिलाओं का पर्व करवा चौथ श्रद्धा व आस्था के साथ मनाया गया। करवा चौथ व्रत को लेकर चौथ माता मंदिर में माता की पूजा-अर्चना व दर्शनों के लिए महिलाओं की भीड़ उमड़ी।
मंदिर के पुजारी हितेश पाराशर ने बताया कि करवा चौथ व्रत को लेकर मंदिर में पूजा-अर्चना के लिए सुहागिन महिलाओं का अलसुबह से ही आना शुरू हो गया था। दोपहर के समय तो चौथ माता मंदिर में पूजा-अर्चना करने के लिए महिलाओं भीड़ उमड़ी। श्रद्धद्मलु महिलाओं ने कतार में लगकर माता की प्रतिमा के दर्शन किए और माता की पूजा-अर्चना की। वहीं महिलाओं ने मंदिर परिसर के आसपास समूह में बैठकर चौथ माता की कहानी सुन सूर्य भगवान को जल का अद्र्ध चढाया। महिलाओं ने अपने पति की दीर्घायु की कामना की। करवा चौथ के मौके पर यहां मेले जैसा नजारा दिखाई दे रहा था। चौथ माता के मंदिर के आसपास लगी अस्थाई दुकानों पर बच्चों व महिलाओं ने जरुरतमंद वस्तुओं की खरीददारी की। भीड के चलते कस्बे के मुख्य मार्ग पर कई बार वाहनों का जाम लग गया। जिससे श्रद्धालुओं को परेशानी का सामना करना पड़ा। माता के पूजन के लिए कस्बा सहित आस-पास के गांव के अलावा दिल्ली, जयपुर, राजगढ़, अलवर, बांदीकुई, कोलकाता आदि से श्रद्धालु पहुंचे। मंदिर में विराजित चौथ माता, संतोषी माता, हनुमानजी, शिव जी, भैरव बाबा की प्रतिमाओं को पुष्पों से सजाया गया। रात्रि के समय भजन कार्यक्रम का आयोजन हुआ।
टहला. क्षेत्र में गुुरुवार को महिलाओं ने करवा चौथ पर्व श्रद्धापूर्वक मनाया गया। इस पर्व पर महिलाओं ने उपवास रख सामूहिक रुप से चौथ माता की कहानी सुनी और अपने पति की दीर्घायु की कामना की। इस पर्व पर महिलाओं ने चौथ माता मंदिर में पूजा अर्चना की। रात्री में चांद को अध्र्य देकर बुजुर्गो से आशीर्वाद लेकर उपवास खोला ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned