विदेशी पर्यटकों ने सिटी ब्यूटीफुल से मुंह मोड़ा

Shankar Sharma

Publish: Jan, 13 2018 09:42:47 PM (IST)

Ambala, Haryana, India
विदेशी पर्यटकों ने सिटी ब्यूटीफुल से मुंह मोड़ा

विदेशों से भ्रमण के लिए आने वाले पर्यटकों का सिटी ब्यूटीफुल से मोहभंग हो रहा है।

चंडीगढ़। विदेशों से भ्रमण के लिए आने वाले पर्यटकों का सिटी ब्यूटीफुल से मोहभंग हो रहा है। विदेशी पर्यटक अब यहां भ्रमण करने, फोटोग्राफी आदि करने तथा शोध आदि जैसे कार्य करने के लिए नहीं आ रहे हैं। अब विदेशियों द्वारा चंडीगढ़ को केवल कुछ समय के लिए अस्थाई पर्यटक स्थल के रूप में ही इस्तेमाल किया जा रहा है। वहीं पड़ोसी राज्यों से चंडीगढ़ आने वाले पर्यटकों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है।


पर्यटन विभाग के अधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कुछ समय पहले तक चंडीगढ़ विदेशी पर्यटकों की न केवल पहली पसंद रहा है बल्कि विदेशी पर्यटक चंडीगढ़ को कुछ समय के लिए अपना अस्थाई ठहराव भी बनाते रहे हैं। विदेशों से आने वाले युवा पर्यटक चंडीगढ़ के कैपीटल कांप्लैक्स, हरियाणा,पंजाब विधानसभा, सचिवालय की इमारतों, हाईकोर्ट की इमारत आदि पर स्टडी करते थे। विदेशी पर्यटक यहां फोटोग्राफी के साथ-साथ आर्किटैक्ट क्षेत्र से जुड़े युवाओं द्वारा यहां के लिए बकायदा स्टडी टूअर आयोजित किए जाते थे।


अब पिछले दो वर्षों से स्थिति बदल रही है। अब विदेशी पर्यटक चंडीगढ़ में तो आते हैं लेकिन यहां एक या दो दिन से अधिक नहीं ठहरते हैं। विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अब विदेशों से आने वाले पर्यटक यहां कुछ समय व्यतीत करने के बाद हिमाचल की तरफ जाना पसंद करते हैं। चंडीगढ़ के मुकाबले उक्त विदेशी पर्यटक हिमाचल में अधिक समय व्यतीत कर रहे हैं।


दूसरी तरफ पड़ोसी राज्यों से चंडीगढ़ आने वाले घरेलू पर्यटकों की संख्या में लगातार हो रही वृद्धि से चंडीगढ़ प्रशासन खासा उत्साहित है। जानकारी के अनुसार पड़ोसी राज्य तामिलनाडू, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश आदि राज्यों से चंडीगढ़ आने वाले अधिकतर पर्यटक यहां न केवल कई-कई दिन व्यतीत करते हैं बल्कि पर्यटक स्थलों में विदेशी पर्यटकों के मुकाबले अधिक समय व्यतीत करते हैं।

चंडीगढ़ टूरिज़म के टूरिस्ट आफिसर नरेंद्र कुमार पर्यटकों के रूझान में आए बदलाव को स्वीकार करते हुए कहते हैं कि विदेशी पर्यटकों की संख्या कम होने के पीछे अन्य कई तकनीकी कारण भी हो सकते हैं। जिसमें वीजा आदि की समस्या अहम मानी जा सकती है। इसके अलावा घरेलू पर्यटकों की संख्या में लगातार हो रही वृद्धि प्रशासनिक नीति का सुखद पहलू है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned