हरियाणा का बड़ा कदम, ट्रायल के लिए खुले शिक्षण संस्थान, Corona काल में इस तरह संभाली व्यवस्था

Coronavirus ने लंबे समय तक हर वर्ग के विद्दार्थियों की पढ़ाई को रोके रखा (School And Colleges Reopen For Trial In Haryana During Coronavirus) (Haryana News) (Ambala News) (Education During Coronavirus Pandemic)...

By: Prateek

Published: 26 Sep 2020, 04:14 PM IST

(चंडीगढ़,अंबाला): कोरोना वायरस (Coronavirus) ने लंबे समय तक हर वर्ग के विद्दार्थियों की पढ़ाई को रोके रखा। पढ़ाई को सुचारू रखने के लिए ऑनलाइन टीचिंग जैसे विकल्प अपनाए गए। लेकिन अब स्कूल और कॉलेज खोलने पर भी विचार किया जा रहा है। हरियाणा ने इस दिशा में बड़ा कदम उठाते हुए ट्रायल के तौर पर 26 सितंबर से स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी खोलने का निर्णय लिया है।

यह भी पढ़ें: श्रद्धा ने मानी सुशांत के साथ पार्टी की बात, सारा ने भी दिए सवालों के जवाब

हरियाणा के उच्च शिक्षा विभाग के डायरेक्टर जनरल ने राज्य के सभी कॉलेज और यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार के नाम पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने कहा कि सरकार ने यू.जी कोर्स के प्रथम वर्ष, द्वितीय वर्ष व पी.जी कोर्स के प्रथम वर्ष के छात्रों को अगली कक्षा में प्रमोट करने का फैसला किया है, ऐसे में नए सत्र के लिए रेगुलर क्लासेज शुरू करनी चाहिए। इसी क्रम में सरकार ने विश्वविद्यालयों कॉलेजों को निर्देश दिया था कि निर्धारित टाइम-टेबल के अनुसार, ऑनलाइन क्लासेस भी चलाई जाएं। अब नए सत्र के लिए छात्रों का एडमिशन भी शुरू हो चुके है।

हरियाणा का बड़ा कदम, ट्रायल के लिए खुले शिक्षण संस्थान, Corona काल में इस तरह संभाली व्यवस्था
उच्च शिक्षा विभाग की ओर से जारी टाइम टेबल IMAGE CREDIT:

यह भी पढ़ें: Coronavirus: WHO ने बढ़ रहे संक्रमण पर जताई चिंता, कहा- इस बार और बुरे हो सकते हैं हालात

स्कूल की तर्ज पर कॉलेज व यूनिवर्सिटी भी खुली...

उन्होंने पत्र में इस बात का जिक्र किया कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी गाइडलाइन के अनुसार 30 सितंबर तक कॉलेज और विश्वविद्दालयों में नियमित गतिविधियों का संचालन करने पर रोक लगाई गई है। लेकिन केंद्र ने कक्षा 9 से 12वीं तक के विद्दार्थियों को परिजनों की सहमति से स्कूल जाने की छूट दी है। यह छात्र शिक्षकों से परामर्श के लिए स्कूल जा सकते है। कक्षा आनलाइन ही लगेंगी। इस दौरान भी कोरोना से निपटने के प्रोटोकाल की पालना करना अनिवार्य है। इसी को ध्यान में रखते हुए कॉलेज और यूनिवर्सिटी के छात्रों को टाइम टेबल सेट करके मार्गदर्शन के लिए शिक्षकों के पास आने की व्यवस्था शुरू की जा सकती है। सावधानी के साथ यह सब कुछ संभव करने के लिए राज्य के उच्च शिक्षा विभाग ने कॉलेजों और विश्वविद्यालयों को पहले ही ईमेल कर कोरोना प्रोटोकॉल 25 सितंबर तक पूरा करने के निर्देश दे दिए थे। इससे 26 से शिक्षण संस्थान आसानी से खोले जा सके।


विभाग की ओर से सभी कक्षाओं के टाइम टेबल सेट करने के निर्देश दिए है। समस्या का समाधान करने के लिए छात्र शिक्षकों से मिलेंगे इसके अलावा नियत समय पर ऑनलाइन क्लास चलती रहेगी।

ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned