नाम बदलकर विधवा को झांसे ​में लिया, बाद में जबरन निकाह किया, फिर पार की प्रताड़ना की सारी हदें, पढ़ें पूरी खबर

आरोपी युवक ने प्रताड़ना की सारी हदें पार कर दी है (Youth Cheated Widow For Nikah And Brutally Molested Her In Panipat) (Haryana News) (Panipat News) (Ambala News)...

 

By: Prateek

Updated: 22 Aug 2020, 11:07 PM IST

पानीपत,अंबाला: बदमाश लड़कों द्वारा नाम बदलकर व अपनी पहचान छिपाकर लड़कियों से विवाह करने के मामले अक्सर सामने आते रहते हैं। लेकिन ऐसा ही एक मामला यहां सामने आया है जिसमें आरोपी युवक ने प्रताड़ना की सारी हदें पार कर दी है। पहले नाम बदलकर विधवा महिला से शादी की उसके बाद अपने दोस्तों से संबंध बनाने के लिए भी मजबूर किया। ऐसा नहीं करने पर आरोपी ने महिला को खाना देना ही बंद कर दिया। गर्भवती होने के बाद भी वह महिला पर जुल्म करता रहा।

यह भी पढ़ें: जानें क्या होता है ‘lone wolf attack’, ISIS के निशाने पर क्यों है दिल्ली?

यह मामला हरियाणा के पानीपत जिले का है। निजामुदीन उर्फ गोल्डी ने इस घिनौनी हरकत को अंजाम दिया। पीड़िता को एक महिला हित में काम करने वाली अन्य महिला ने सहायता दी। इसके बाद पीड़िता ने पानीपत एसपी मनीषा चौधरी को इस संबंध में शिकायत की।

पीड़िता ने बताया कि वह मूलरूप से यूपी के बरेली की रहने वाली हैं। एकता विहार कॉलोनी में रहने वाले युवक से 2010 में उसकी शादी हुई थी। उसके तीन बच्चे भी थे। 2017 में पति की सड़क दुर्घटना में जान चली गई। इसके बाद वह जैसे—तैसे काम करके अपने सास—ससुर और बच्चों को पाल रही थीं।

यह भी पढ़ें: America में चक्रवाती तूफान Laura मचा सकता है तबाही, सोमवार तक खाड़ी तट से टकराने की संभावना

इसी बीच निजामुदीन ने उसे परेशान करना शुरू कर दिया। वह नाम बदलकर उससे मिला। इसके बाद शादी का दबाव बनाने लगा। परेशान पीड़िता अपने माता—पिता के घर बरेली चली गईं। निजामुदीन यहां भी आ पहुंचा। वहां जाकर उसने महिला को अपना नाम गोल्डी बताया और जाल में फंसाकर अपने साथ पानीपत ले आया। यहां से उसकी जबरदस्ती का लेवल बढ़ता गया।

उसने महिला पर शादी का दबाव बनाया। पीड़िता ने मना किया तो उसकी जांघ में चाकू घोप दिया। जनवरी 2020 में जबरन उससे विवाह भी कर लिया। अभी उसका स्याह चेहरा बाहर आना बाकि था। कुछ दिनों बाद वह उसे मदरसे में ले गया, वहां पता चला कि गोल्डी वास्तव में निजामुदीन है। यहां उसने पीड़िता से निकाह किया।

यह भी पढ़ें: Ganesh Chaturthi 2020: गणेश चतुर्थी पर इसलिए नहीं देखना चाहिए चांद, जानिए क्या है वजह

इसके बाद आरोपी के अत्याचारों का स्तर बढ़ता गया। आरोपी ने पीड़िता को घर में कैद करके रखा। मारपीट की। वह पीड़िता को अपने दोस्तों से संबंध बनाने का दबाव डालने लगा। पीड़िता नहीं मानी तो उसे खाना देना बंद कर दिया। वह पीड़िता को तेजाब से जलाने व मारकर नहर में फेंक देने की धमकी भी देने लगा। जब पीड़िता 5 माह की गर्भवती हुई तो उसे घर से निकाल दिया। इसी बीच पीड़िता मॉडल टाउन निवासी समाज सेविका से मिली। पुलिस ने आरोपी निजामुदीन, उसके पिता व मां के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जांच जारी है।

ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned