सरकार की आंखों में धूल झोंककर यहां लूटने की बन गई पूरी तैयारी, एक साल पहले हुए निर्माण का फिर से निकाला टेंडर

सरकार की आंखों में धूल झोंककर यहां लूटने की बन गई पूरी तैयारी, एक साल पहले हुए निर्माण का फिर से निकाला टेंडर

By: Ruchi Sharma

Published: 24 Jul 2018, 04:49 PM IST

अम्बेडकर नगर. यह सुनकर थोड़ा हैरानी तो जरूर होगी कि एक साल पहले नगर पालिका अकबरपुर क्षेत्र में कई ऐसी सड़कों, नालियों, खड़ंजों का निर्माण और कुंओं के मरम्मतीकरण पर लाखों रुपये का भुगतान किया था, लेकिन इस साल फिर से उन्ही कार्यों को कराए जाने का टेंडर प्रकाशित कर क्षेत्रवासियों की सुविधाओं के लिए सरकार द्वारा दिये गौए धन के बंदरबांट की योजना बन गई है।

सरकार ने प्रदेश में फैले भ्रष्टाचार को ख़त्म करने की भरसक कोशिस की हो, लेकिन भ्रष्टाचार ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहा है। मामला जिले के अकबरपुर नगर पालिका परिषद् का है, जहां टेंडर के नाम पर लाखो के भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है ।

इन कार्यों के जरिये लूटपाट की है योजना

नगर पालिका ने 14 वार्डो में एक साल पूर्व बनी सडको के निर्माण, नाली निर्माण और कुओ के मरम्मतीकरण के नाम पर लगभग 70 लाख का टेंडर निकाल दिया है, जो पिछले साल ही बनवाये गए थे और अच्छी हालत में है | नगर पालिका द्वारा इन सडको , नालियों और कूवोँ का टेण्डर इस लिए निकाला गया, जिससे कागजी कार्यवाही कर पैसे बन्दर बाँट की जा सके । नगर पालिका के शास्त्रीनगर वार्ड संख्या 13 में बनी सड़क के नाम पर लगभग 10 लाख का टेंडर जारी कर दिया गया है । इसके अलावा वार्ड संख्या 10 लोरपुर में कुंओं की मरम्मत के नाम पर 6 लाख 74 हज़ार का टेंडर निकाला गया है । इस मामले के सामने आने के बाद भाजपा के नगर अध्यक्ष समेत कई सभासदो ने मुख्यमंत्री और नगर विकास मंत्री समेत कई अधिकारियो ने लिखित शिकायत कर टेंडर प्रक्रिया निरस्त करने की मांग की है ।

अब अधिशाषी अधिकारी ने दिया जांच का आदेश

नगर पालिका की तरफ से अपने अधिकारिता क्षेत्र में कोई भी निर्माण अथवा विकास कार्यों के लिए सबसे पहले बोर्ड में पालिका सदस्यों के द्वारा बताए गए कार्यों को सूचीबद्ध करके उनका निरीक्षण किया जाता है और उसके निरीक्षण के पश्चात यदि कार्य कराने लायक होता है तो अधिशाषी अधिकारी की सहमति के आधार पर ही बोर्ड इन कार्यों की स्वीकृति प्रदान करता है। जिसके बाद ही टेंडर प्रक्रिया शुरू होती है। इस मामले में जब बड़े भ्र्ष्टाचार का खुलासा हुआ तो अब नगर पालिका परिषद् के अधिशासी अधिकारी ने जाँच के आदेश दे दिए है।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned