स्वच्छता अभियान का निरीक्षण करने पहुंचे कमिश्नर, इसलिए जताई नाराजगी

कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए तीन दिन के प्रदेश में लगाये गए सम्पूर्ण लॉक डाउन के दौरान प्रदेश भर में स्वच्छता और रोगों से निवारण के उपायों के लिए सरकार के निर्देश पर बड़े अधिकारी निरीक्षण करने के लिए निकल रहे हैं।

अम्बेडकर नगर. कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए तीन दिन के प्रदेश में लगाये गए सम्पूर्ण लॉक डाउन के दौरान प्रदेश भर में स्वच्छता और रोगों से निवारण के उपायों के लिए सरकार के निर्देश पर बड़े अधिकारी निरीक्षण करने के लिए निकल रहे हैं। अयोध्या मण्डल के मंडलायुक्त एम पी अग्रवाल भी जिले की टाउन एरिया इल्तफात गंज और नगर पालिका टांडा का निरीक्षण किया। टांडा में जिलाधिकारी राकेश मिश्र, एसपी आलोक प्रियदर्शी और एसडीएम टांडा के अलावा स्वास्थ और नगर पालिका के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की मौजूदगी में निरीक्षण किया।

तहसील मुख्यालय के बगल स्थित वार्ड नम्बर एक नेहरू नगर में सड़क और सफाईव्यवस्था देखकर मंडलायुक्त ने नाराजगी जाहिर की। गलियां और सड़के टूटी होने के बावजूद अधिशाषी अधिकारी द्वारा उनकी मरम्मत न कराये जाने और लीपापोती किये जाने को लेकर उन्होंने कड़ी फटकार लगाई। नगर पालिका के कई सभासदों ने मंडलायुक्त से पालिका में व्याप्त भ्रष्टाचार और ईओ की तानाशाही के खिलाफ जमकर शिकायत की। सभासद शकील अंसारी ने खुलेआम ईओ पर आरोप लगाया कि चेयरमैन रेहाना अंसारी बीमार हैं और ईओ अपनी मर्जी से विकास कार्यों के पैसे का दुरूपयोग कर रहे हैं। मंडलायुक्त ने सख्ती दिखाते हुए वार्डों की तमाम समस्याओं के निराकरण का निर्देश ईओ, एसडीएम और जिलाधिकारी तक को दिया।

बाढ़ ग्रस्त लोगों के लिए भी जारी हुआ निर्देश

घाघरा नदी के तट पर बसे टांडा में बढ़ के हालात का भी जायजा मंडलायुक्त ने लिया बगल के कस्बा मुबारक पुर में नदी के किनारे की आबादी से लगे कटान का भी निरीक्षण मंडलायुक्त ने किया। जहां कटान की अधिक संभावना महसूस हुई, वहां के लिये ठोकरों को सही करने का भी निर्देश दिया। पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहाकि बाढ़ से निपटने के निर्देश दिए।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned