सीआरपीएफ जवान की संदिग्ध हालत में मौत, परिजनों ने शव लेने से किया इंकार, की यह मांग

सीआरपीएफ जवान की संदिग्ध हालत में मौत, परिजनों ने शव लेने से किया इंकार, की यह मांग

Abhishek Gupta | Publish: Apr, 17 2019 09:59:37 PM (IST) | Updated: Apr, 17 2019 09:59:38 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

जिले के निवासी राम अचल सीआरपीएफ में सिपाही के पद पर आसाम में तैनात थे, जिनकी 15 अप्रैल को ड्यूटी के समय ही संदिग्ध परिस्थिति में गोली लगने से मौत हो गई।

अम्बेडकर नगर. जिले के निवासी राम अचल सीआरपीएफ में सिपाही के पद पर आसाम में तैनात थे, जिनकी 15 अप्रैल को ड्यूटी के समय ही संदिग्ध परिस्थिति में गोली लगने से मौत हो गई। इसकी सूचना जब राम अचल के परिजनों को मिली तो उनके घर में कोहराम मच गया। सीआरपीएफ की तरफ से रामअचल के शव को उनके घर पहुंचाने के बाद परिजनों ने शहीद का दर्जा दिए जाने की मांग न माने जाने तक शव लेने से इनकार कर दिया।

शव के साथ आये कांस्टेबल ने बताई मौत की वजह-

मृतक सिपाही रामअचल की मौत के बाद सीआरपीएफ की तरफ से प्रक्रिया पूरी करने के बाद उनके शव को तिरंगे में लपेट कर आज उनके गांव लाया गया, जहां सिपाही के सम्मान में हजारों की संख्या में लोग तिरंगा लेकर राम अचल अमर रहे और भारत माता की जय के नारे लगाते रहे। यहां लोगों को यह जानकारी मिली थी कि राम अचल की मौत शायद किसी नक्सली हमले में हुई थी, लेकिन उनके शव को लाने वाले सीआरपीएफ के कांस्टेबल ने बताया कि राम अचल की मौत किसी नक्सली हमले में नहीं बल्कि ड्यूटी करते समय उनकी ही रायफल से गोली लगने से हुई है, जिसके कारणों की जांच सीआरपीएफ की तरफ से की जा रही है।

दिवंगत सिपाही की पत्नी ने मौत पर उठाए सवाल, तो ग्रामीणों ने किया सड़क जाम-

सिपाही राम अचल के परिजनों का कहना है कि उनके घर में कोई विवाद नहीं था और राम अचल ही अपनी बूढ़ी मां, पत्नी, दो नाबालिग बेटियां और एक दुधमुंहे बेटे की परवरिश करते थे। ऐसे में उनकी संदिग्ध मौत पर परिजन तरह-तरह के सवाल कर रहे हैं। उनकी पत्नी ने फिलहाल शव को लेने से इन्कार करते हुए स्थानीय प्रशासन और सीआरपीएफ से सिपाही राम अचल को शहीद का दर्जा देने के साथ ही उनको नौकरी के साथ अन्य सुविधाएं देने की मांग की है। प्रशासन की तरफ से कोई ठोस आश्वासन न मिलने से दिवंगत सिपाही की पत्नी की तरफ से अपने पति की मौत पर सवाल उठाए जाने से नाराज ग्रामीणों ने सिपाही के शव को अकबरपुर-फैज़ाबाद मार्ग पर रखकर सड़क जाम कर दिया है। फिलहाल बड़ी संख्या में पुलिस और प्रशासन के लोग मान मनौव्वल में जुटे हुए है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned