मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना से यहां 47 गरीब बेटियों को मिली नई जिंदगी

हमारे समाज में गरीबी के अभिशाप के कारण गरीब घर की बेटियों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

By: Abhishek Gupta

Published: 10 Feb 2018, 08:06 PM IST

अम्बेडकर नगर. हमारे समाज में गरीबी के अभिशाप के कारण गरीब घर की बेटियों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। ऐसी बेटियों के गरीब मां-बाप जहां एक तरफ अपनी बेटी की शादी के लिए धन नहीं इकट्ठा कर पाते है, वहीं समाज में दहेजरूपी बुराई के कारण इन बेटियों को और भी मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। ऐसी ही मुसीबतों का सामना कर रहे परिवारों के लिए प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना को शुरू किया है, जिसमे गरीब परिवार की बेटियों का उनके धर्म के हिसाब से सामूहिक विवाह का आयोजन सरकार की तरफ से करते हुए समस्त खर्चे और उपहार सरकार द्वारा दिया जाएंगे।

ये भी पढ़ें- 160 साल से भारत लौटने के इंतजार में इस शहीद का शीश

प्रशासन की तरफ से जिले में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत आयोजन किया गया, जिसमें 47 गरीब बेटियों की शादी बड़ी ही धूम धाम से कराई गई। इस आयोजन में जिले की दो महिला विधायक अनिता कमल और संजू देवी के अलावा सांसद डॉ हरिओम के पुत्र अनुपम पांडेय और जिले भर के सभी बड़े अधिकारी गवाह बने।

ये भी पढ़ें- पुलिस और अपराधियों के बीच हुई फर्जी मुठभेड़, बड़े खुलासे से पुलिस प्रशासन में मचा हड़कंप

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का आयोजन जिले के शिवबाबा धाम में धूमधाम से किया गया। इस समारोह में 60 जोड़ों ने आवेदन किया था, जिसमे स्के जांच के बाद 47 जोड़ों का विधिवत विवाह कराया गया। विवाह में शामिल सभी जोड़ों ने अग्नि को साक्षी मानते हुए साथ फेरे लिए और साथ में जीने मरने की कस्मे खाई। इस सामूहिक विवाह में शामिल जोड़ों को सहायता के तौर पर बधू पक्ष को 20 हजार रूपये नगद और 10 हजार रूपये का जरूरत का घरेलू सामान उपहार स्वरूप दिया गया।

ये भी पढ़ें- मायावती ने सपा छोड़ 2019 चुनाव के लिए इस पार्टी से किया गठबंधन, हुआ बड़ा ऐलान, सपा-भाजपा में मचा खलबली

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned