डॉक्टर से रंगदारी मांगने के मामले में इस बड़े माफिया का गुर्गा गिरफ्तार

Ashish Pandey

Publish: Jul, 13 2018 06:49:28 PM (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
डॉक्टर से रंगदारी मांगने के मामले में इस बड़े माफिया का गुर्गा गिरफ्तार

जेल से ही अपने नेटवर्क का संचालित करता है खान मुबारक।

 

अम्बेडकरनगर. जिले की पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। बसखारी थाने की पुलिस ने माफिया खान मुबारक़ के गुर्गे को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए अभियुक्त के ऊपर रंगदारी मांगने का आरोप है। हलांकि अभी भी इसका एक साथी पुलिस की पकड़ से दूर है, जिसके बारे में बताया जाता है कि वह किसी मुकदमे में सरेंडर करके फैज़ाबाद जेल की राह पकड़ ली है। रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस ने जेल में बंद माफिया डॉन खान मुबारक समेत तीन के खिलाफ मुकदमा पिछले दिनों दर्ज किया था, जिसमें पुलिस को नामजद अभियुक्तों की तलाश थी।

जेल में बैठकर माफिया करता है नेटवर्क का संचालन

बसखारी थानक्षेत्र में निजी प्रैक्टिस करने वाले डॉक्टर से करीब दो सप्ताह पूर्व 6 लाख की रंगदारी मांगी गयी थी। रंगदारी मांगने वाला कोई और नहीं बल्कि जेल में बंद माफिया खान मुबारक था। जेल में बैठा खान मुबारक़ अपने गुर्गों के माध्यम से फोन के जरिये डॉक्टर से 6 लाख की रंगदारी मांगी थी और तय समय पर रंगदारी न देने पर जान से मारने की धमकी दी थी। दहशत में आये डॉक्टर ने बसखारी थाने में मामले की तहरीर दी थी। पुलिस ने मामले को गंम्भीरता से लेते हुए खान मुबारक समेत दो अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जाँच में जुटी हुई थी। पुलिस की सक्रियता के चलते रंगदारी में शामिल खान मुबारक का एक गुर्गा असलहे के साथ पुलिस के हत्थे चढ़ गया, जबकि रंगदारी मांगने में शामिल दूसरा गुर्गा सरेंडर कर पहले ही जेल की राह पकड़ ली है और एक अभियुक्त अभी भी पुलिस पकड़ से दूर है।

पहले भी जेल से करता रहा नेटवर्क का संचालन

माफिया खान मुबारक बेहद शातिर अपराधी है, जो पहली बार इलाहाबाद में एक लूटकांड में पुलिस की सूची में शामिल हुआ। अम्बेडकर नगर जिले के हंसवर थाना क्षेत्र के हरसम्हार गांव का निवासी खान मुबारक का बड़ा भाई जफर खान उर्फ जफर सुपारी मुंबई का शार्प शूटर है, जो इन दिनों मशहूर काला घोड़ा हत्याकांड मामले में मुम्बई जेल में बंद है।

खान मुबारक अम्बेडकर नगर में पिछले कई सालों से अपनी आपराधिक गतिविधियां तेज करते हुए फिरौती, रंगदारी और कई अन्य संगीन अपराधों में अपना नाम बढ़ाता गया। कई मामलों में जेल की सलाखों के पीछे रहते हुए भी खान मुबारक मोबाइल के जरिये अपना वसूली का कारोबार संचालित करता रहा। फैज़ाबाद जेल में रहते हुए जेल के अंदर सारी सुविधाएं मिलते रहने का भंडाफोड़ होने के कारण इसकोप्रदेश के अन्य जेलों में भी सिफ्ट किया जा चुका है। वर्तमान में खान मुबारक सुल्तानपुर जेल में बंद है, लेकिन पेशी के दौरान कचहरी में वह सूट ***** और टाई में जिस तरह से दिखाई पड़ा था, उससे सुल्तानपुर जेल में भी उसकी सुविधाओं का अंदाजा लगाया जा सकता है।

Ad Block is Banned