मृत बच्चे को जन्म देने के 2 दिन बाद पति की हो गई मौत, खुद की हालत भी नाजुक, जांच में सामने आई ये बात तो मचा हड़कंप

मृत बच्चे को जन्म देने के 2 दिन बाद पति की हो गई मौत, खुद की हालत भी नाजुक, जांच में सामने आई ये बात तो मचा हड़कंप
Aids virus

Ram Prawesh Wishwakarma | Updated: 23 Aug 2019, 09:15:52 PM (IST) Ambikapur, Surguja, Chhattisgarh, India

AIDS: शासन-प्रशासन से मदद की उम्मीद, नाजुक हालत में रायपुर किया गया रेफर लेकिन आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण ले गए घर

अंबिकापुर. एक महिला ने 15 दिन पूर्व मृत नवजात को जन्म दिया। इस दौरान ज्यादा ब्लीडिंग के कारण उसकी भी हालत खराब हो गई। प्रसव के दो दिन बाद ही पति की भी इलाज के दौरान मौत हो गई। वह सड़क दुर्घटना में घायल था। इलाज के बाद भी उस पर दवा का असर नहीं हो रहा था।

इधर महिला को गंभीर स्थिति में मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां जांच में पता चला कि उसे एड्स (AIDS) की बीमारी है। इससे उसके परिजनों में हड़कंप मच गया। नवजात व पति की मौत को इस बीमारी से जोड़कर भी देखा जा रहा है।

इधर महिला की गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने रायपुर रेफर कर दिया लेकिन आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण उसका भाई उसे घर ले गया। अब महिला व उसके परिजन को शासन-प्रशासन से मदद की उम्मीद है।


सरगुजा जिले के उदयपुर विकासखंड अंतर्गत 35 वर्षीय एक महिला ने 15 दिन पूर्व घर पर ही मृत बच्चे को जन्म दिया था। प्रसव के करीब 7 दिन पूर्व सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल होने के बाद से पति अस्पताल में भर्ती था। 2 दिन बाद उसकी भी मौत हो गई।

इधर बच्चे को जन्म देने के बाद महिला की स्थिति भी काफी गंभीर हो गई थी। पति व मृत बच्चा जन्म लेने के बाद न तो उसके ससुराल व न घरवाले महिला पर ध्यान दे रहे थे। इस बात का पता चलने पर अंबिकापुर निवासी समाज सेवी व अधिवक्ता शिल्पा पांडेय ने उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल में सप्ताहभर पूर्व भर्ती कराया।

यहां जांच में पता चला कि महिला को एड्स (AIDS virus) की बीमारी है। वहीं हीमोग्लोबिन भी 5 ग्राम था। 6 दिन तक आईसीयू में रखकर उसका इलाज किया जा रहा था, फिर भी उसकी हालत नहीं सुधर रही थी। इसके बाद डॉक्टरों ने उसे 23 अगस्त को रायपुर के लिए रेफर कर दिया। इधर आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण उसका भाई उसे घर ले गया।


शासन-प्रशासन से मदद की उम्मीद
आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण गंभीर रूप से घायल महिला को रायपुर नहीं ले जाया जा सका। अब उसे व उसके परिजन को शासन-प्रशासन से मदद की उम्मीद है। फिलहाल वह जिंदगी-मौत के बीच जूझ रही है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned