डेढ़ वर्ष पूर्व कोर्ट से फरार 2 अपराधी तलवार लहराते गिरफ्तार

पेशी के दौरान सीतापुर न्यायालय से हो गए थे फरार, दोनों पर रायगढ़ जिले में लूट, डकैती, मारपीट व बलवा के 30-30 मामले हैं दर्ज, कई मामले में हैं स्थायी वारंटी

By: Pranayraj rana

Published: 15 Apr 2016, 05:49 PM IST

अंबिकापुर. क्राइम ब्रांच की टीम ने 2 शातिर अपराधियों को तलवार लहराते अंबिकापुर के अलग-अलग इलाके से गिरफ्तार किया है। इनपर सरगुजा व रायगढ़ जिले के विभिन्न थानों में लूट, डकैती, बलवा, मारपीट, धोखाधड़ी सहित 30-30 मामले दर्ज हैं। कई मामलों में ये स्थायी वारंटी भी हैं।

इनके जुर्मों की लंबी फेहरिस्त पुलिस के पास है। जून 2014 में दोनों पुलिस को चकमा देकर उस समय फरार हो गए थे, जब रायगढ़ से पेशी में उन्हें सीतापुर न्यायालय में लाया गया था। पुलिस ने दोनों को जेल भेज दिया है।

कोतवाली पुलिस व क्राइम ब्रांच को पेट्रोलिंग के दौरान सूचना मिली कि खैरबार रोड घुटरापारा तथा हरसागर तालाब के सामने युवक अपने पास तलवार रखे हैं तथा आने-जाने वाले लोगों को डरा-धमका रहे हैं। सूचना मिलते ही एसपी आरएस नायक के मार्गदर्शन व एएसपी वेदव्रत सिरमौर के नेतृत्व में कोतवाली पुलिस व क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम ने इन दोनों जगहों पर दबिश दी। पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेकर इनसे तलवार जब्त कर ली गई।

पकड़े गए आरोपियों में सीतापुर के ग्राम महेशपुर, नकना निवासी रामप्रसाद सिदार पिता चमरु राम सिदार 27 वर्ष तथा ग्राम मंगारी जूनापारा निवासी सियंबर सिंह पिता इंद्रदेव सिंह 19 वर्ष हैं। दोनों के विरुद्ध कोतवाली पुलिस ने आम्र्स एक्ट के तहत कार्रवाई की। पुलिस की पूछताछ में यह भी पता चला कि दोनों 5 जून 2014 सीतापुर न्यायालय से पेशी के दौरान फरार हो गए थे। दोनों को रायगढ़ जेल से सीतापुर न्यायालय में लाया गया था।

इनके खिलाफ बतौली, सीतापुर सहित रायगढ़ जिले के कई थाना व चौकियों में लूट, डकैती, बलवा, धोखाधड़ी, मारपीट सहित दर्जनों संगीन मामले दर्ज हैं। दोनों कई मामलों में स्थायी वारंटी भी हैं। दोनों बादी गिरोह के सदस्य हैं। पुलिस ने दोनों को आज जेल भेज दिया।

कार्रवाई में क्राइम ब्रांच प्रभारी भूपेश सिंह, एएसआई विनय सिंह, प्रधान आरक्षक रामअवध सिंह, आरक्षक भोजराज पासवान, राकेश शर्मा, विकास सिंह उपेंद्र सिंह, विरेंद्र पैंकरा, दशरथ राजवाड़े, बृजेश राय, अमित विश्वकर्मा, सरस्वती पांडेय सहित कोतवाली एसआई अब्दुल मुनाफ, एएसआई समरेंद्र सिंह, संजय श्रीवास्तव, प्रधान आरक्षक राकेश यादव, आरक्षक देवेंद्र पाठक, विमल सिंह का योगदान रहा।

रामप्रसाद के आपराधिक रिकार्ड
रामप्रसाद सिदार के विरुद्ध सीतापुर थाने में धारा 224, बतौली में धारा 452, 294, 323, 147, 148, 149, एवं 25-27 आम्र्स एक्ट, रायगढ़ जिले के थाना कापू में 458, 395, 365, 342, 120 व 458, 395, 120 के तहत स्थायी वारंट, लैलुंगा में दो बार धारा 395, 419, 420, 458, 442, 411, 120 के तहत स्थायी वारंट, धरमजयगढ़ थाने में 3 मामलों में धारा 395, 120, 458, 392, 120 तथा 458, 392, 120 के तहत स्थायी वारंट, छाल थाने में दो मामलों में 395, 411, 419, 420 व 458 के तहत स्थायी वारंट व थाना तमनार में धारा 457, 380 व 34 के तहत स्थायी वारंट है। इसके अलावा धारा 454, 294, 323, 147, 148, 149 व 25-27 आम्र्स एक्ट के तहत प्रोटेक्शन वारंट है।

सियंबर के आपराधिक रिकार्ड
सियंबर सिंह के खिलाफ सीतापुर थाने में धारा 224, बतौली में धारा 452, 294, 323, 147, 148, 149, एवं 25-27 आम्र्स एक्ट, थाना धरमजयगढ़ में धारा 395, 120, छाल थाने में दो मामलों में 395, 411, 419, 420 व 458 के तहत स्थायी वारंट, थाना कापू में 458, 395, 365, 342, 120 व 458, 395, 120 के तहत स्थायी वारंट तथा लैलुंगा थाने में दो बार धारा 395, 419, 420, 458, 442, 411, 120 के तहत स्थायी वारंट दर्ज है।
Pranayraj rana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned