रुपए चुराने असफल रहने पर एटीएम में की तोडफ़ोड़, शहर में लगे सीसीटीवी फुटेज से 2 युवक गिरफ्तार

ATM break case: युवकों ने 2 दिन पहले बैंक ऑफ बड़ौदा (Band of Baroda) के एटीएम (ATM) में की थी तोडफ़ोड़, 4 महीने पहले एसबीआई एटीएम (SBI ATM) को भी किया था क्षतिग्रस्त

By: rampravesh vishwakarma

Published: 21 Nov 2020, 08:24 PM IST

अंबिकापुर. रुपए चोरी की नियत से शहर के 2 एटीएम में तोडफ़ोड़ (ATM break) करने वाले 2 आरोपी युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। तोडफ़ोड़ के बाद भागने के दौरान दोनों सीसीटीवी कैमरे (CCTV camera) में कैद हो गए थे। दोनों को पुलिस ने न्यायालय (Court) में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।


शहर के पीजी कॉलेज के सामने मनेंद्रगढ़ मार्ग पर स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा के एटीएम में 18 नवंबर को अज्ञात लोगों द्वारा तोडफ़ोड़ की गई थी। बैंक प्रबंधन की रिपोर्ट पर गांधीनगर पुलिस ने मामले की जांच शुरु की।

इसी दौरान अंबेडकर चौक पर लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाला गया तो 2 युवक वारदात के कुछ देर बाद ही संदिग्ध अवस्था में घूमते मिले। पुलिस ने सीसीटीवी से मिले हुलिए के आधार पर दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उन्होंने एटीएम में तोडफ़ोड़ (ATM break case) की बात स्वीकार कर ली।

पुलिस ने जिन 2 युवकों को गिरफ्तार किया है, उनमें शहर के नमनाकला शनि मंदिर के पास निवासी रितेश चौहान पिता पुनीत राम तथा नवापारा निवासी अनुराग लकड़ा पिता थोबियस लकड़ा 19 वर्ष शामिल हैं।


एसबीआई के एटीएम में की थी तोडफ़ोड़
पुलिस की पूछताछ में दोनों युवकों ने बताया कि 12 जुलाई 2020 को भी उन्होंने उर्सूलाइन स्कूल के सामने एसबीआई एटीएम (SBI ATM) में रुपए चोरी करने घुसे थे। असफल होने पर उन्होंने एटीएम में तोडफ़ोड़ की थी। दोनों मामले में पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।


कार्रवाई में ये रहे शामिल
कार्रवाई में गांधीनगर थाने के एसआई आरपी साहू, एएसआई नवल किशोर दुबे, प्रधान आरक्षक शत्रुधन सिंह, विपिन तिवारी, आरक्षक आनंद गुप्ता, सलीम मलिक, अमृत सिंह, राकेश यादव, बलवीर मिंज व सूरज राय शामिल रहे।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned