अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर ये बोले लोग, कहा- यहां के गंगा-जमुना की तहजीब नहीं होगी खंडित, सांसद ने कही ये बात

Ayodhya Verdict: प्रशासन ने कहा- वाट्सएप, फेसबुक जैसे सोशल मीडिया पर भ्रामक और भड़काऊ मैसेजों पर बिना सत्यता जांचे न करें विश्वास, प्रशासन को दें खबर

अंबिकापुर. सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या मामले (Ayodhya verdict) पर दिये गये फैसले के बाद सरगुजा जिले में सामाजिक सौहाद्र्र और आपसी भाइचारे की परंपरा कायम रखने के लिए शनिवार को कलक्टोरेट सभाकक्ष में शांति समिति की महत्वपूर्ण बैठक हुई। अल्प समय में बुलाई गई इस बैठक में जिले के विभिन्न समाजों और समुदायों के प्रतिनिधि शामिल हुए।

सभी सदस्यों ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले को किसी समुदाय विशेष की जीत-हार को नकारते हुए उसे भारत देश की जीत बताया। सभी सदस्यों ने प्रशासन और पुलिस के अधिकारियों को आश्वस्त किया कि कोर्ट के इस फैसले से जिले की शंाति ,सामाजिक सद्भावना और भाईचारे की बरसों पुरानी परंपरा गंगा-जमुना तहजीब पर कोई प्रभाव नहीं होगा।

जिले में शांति और अमन चैन कायम रहेगा। समिति के सदस्यों ने कहा कि सरगुजा जिले में देश के अलग-अलग प्रांतों से आकर अलग-अलग संप्रदायों, संस्कृतियों को मानने वाले लोग हमेशा से ही मिलजुल कर रहते आये हैं और यह परंपरा आगे भी कायम रहेगी।

अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर ये बोले लोग, कहा- यहां के गंगा-जमुना की तहजीब नहीं होगी खंडित, सांसद ने कही ये बात

जिला प्रशासन की ओर से पुलिस अधीक्षक आशुतोष सिंह, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी निर्मल तिग्गा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओम चंदेल, एसडीएम अजय त्रिपाठी ने शांति समिति के सदस्यों और जिले के निवासियों की इस भावना की प्रशंसा की और असमाजिक तत्वों द्वारा माहौल बिगाडऩे की कोशिशों से सतर्क और होशियार रहने की हिदायत दी।

पुलिस अधीक्षक आशुतोष सिंह ने बैठक में कहा कि प्रशासन द्वारा स्थिति पर लगातार निगरानी की जा रही है। किसी भी अप्रिय स्थिति में प्रशासन लोगों के सहयोग के लिए हमेशा तैयार है। सिंह ने कहा कि पुलिस टीमों द्वारा वाट्सएप, फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर वायरल होने वाले मैसेज, फोटो, न्यूज आदि के बारे में बारीकी से नजर रखी जा रही है।

उन्होंने अपील की कि किसी भी धार्मिक, राजनीतिक या सामाजिक सौहाद्र्र को प्रभाावित करने वाले संदेशों को न तो स्वयं आगे फारवर्ड करें और न ही अपने आसपास के लोगों को ऐसा करने दें।

किसी भी माहौल बिगाडऩे वाले संदेश की जानकारी तत्काल प्रशासन और पुलिस को दें। उन्होंने बताया कि किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन की तैयारियां पूरी हैं। पुलिस दल लगातार पूरे शहर में गश्त कर रहे हैं।


तत्काल कंट्रोल रूम को दें सूचना
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि किसी भी अप्रिय घटना की सूचन मिलने पर तत्काल पुलिस कंट्रोल रूम को बताएं। सोशल मीडिया पर भड़काऊ या सौहाद्र्र बिगडऩे वाले मैसज मिलने पर उसे आगे फॉरवर्ड न करें। कंट्रोल रूम 07774240872 तथा 9479193599 पर अवश्य सूचित करें।


विभिन्न समाजों के प्रतिनिधियों ने ये कहा
कांग्रेस पार्टी से अजय अग्रवाल ने कहा कि सरगुजा हमेशा से शांतिप्रिय क्षेत्र रहा है। यहां सामाजिक सद्भावना की कई मिसालें हंै। उन्होंने बताया कि पार्टी पदाधिकारियों को रैली, जुलूस नहीं निकालने कहा गया है। भारतीय जनता पार्टी से आलोक दुबे ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला सबकी जीत है। यह सर्वमान्य है। उन्होंने सोशल मीडिया को संवेदनशील बताते हुए सावधानी रखनी की बात कही।

मुस्लिम समाज से नगर निगम सभापति शफी अहमद, अंजुमन कमेटी के अध्यक्ष इरफान सिद्दीकी सहित अन्य प्रतिनिधियों ने बताया कि सामाजिक सौहाद्र्र बनाये रखने के लिए उन्होंने अपने समुदाय के युवाओं को विशेष रूप से वाट्सएप, फेसबुक पर वायरल होने वाले मैसेजों पर सावधानी बरतने के लिए कहा है। बैठक में सिख समाज से नवरोज सिंह बाबरा, हिन्दू समाज से रामचन्द्र शुक्ल, करता राम गुप्ता, कायस्थ समाज से जेपी श्रीवास्तव सहित इसाई समाज व अन्य प्रतिनिधि भी शमिल हुए।


केंद्रीय राज्य मंत्री बोलीं-देश की जनता की जीत
केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह ने कहा है कि अयोध्या मामले में देश के सर्वोच्च न्यायालय के फैसले से देश की जनता की जीत हुई है। इस फैसले से भारत की एकता व अखंडता और मजबूत होगी। अयोध्या विवाद मामले में फैसले को लेकर लोगों को लंबे समय से इंतजार रहा और हर पक्ष को अपनी अपनी दलील रखने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया है। इस फैसले के बाद अब रामलला का मंदिर अयोध्या में बनने का रास्ता भी साफ हो गया है।

देश की जनता के लिए यह क्षण खुशी का है, सभी समुदाय के लोग इस स्पष्ट व ऐतिहासिक निर्णय को सहर्ष स्वीकार कर रहें है और आपसी भाईचारे का परिचय देते हुए शांति व्यवस्था बनाए रखेंगे। इस फैसले के साथ ही वर्षों पुराने अयोध्या विवाद का भी पटाक्षेप हुआ है, जो स्वागत योग्य है।

अंबिकापुर की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- ambikapur News

Show More
rampravesh vishwakarma
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned