Breaking News: बिल्डिंग की ढलाई कर लौट रही मजदूरों से भरी पिकअप खड़े ट्रक से भिड़ी, 2 की दर्दनाक मौत, 26 घायल, पहुंचे एसडीएम-एसपी

Breaking News: ट्रक खड़ा कर चालक खाना बनाने की कर रहा था तैयारी, एसडीएम व एसपी ने अधूरे सड़क निर्माण पर जताई नाराजगी

By: rampravesh vishwakarma

Published: 12 Oct 2019, 05:39 PM IST

अंबिकापुर/केरता. प्रतापपुर-अंबिकापुर मार्ग पर धरमपुर व जगन्नाथपुर के बीच सिंगलदोन के पास मजदूरों से भरी पिकअप सड़क किनारे खड़े ट्रक से जा (Pickup accident) भिड़ी। दुर्घटना शुक्रवार की रात 9.30 बजे की है। हादसे में पिकअप में सामने बैठे 2 मजदूर की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई, जबकि दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए।

घटना के बाद वहां चीख-पुकार मच गई। सूचना पर खडग़वां चौकी पुलिस मौके पर पहुंची और सभी घायलों को इलाज के लिए प्रतापपुर अस्पताल भिजवाया। यहां चिकित्सकों ने स्थिति को गंभीर देखते हुए सभी घायलों को अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया। इधर शनिवार को एसडीएम व एसपी घटनास्थल पर पहुंचे और अधूरे सड़क निर्माण को लेकर ठेकेदार के कर्मचारियों को फटकार लगाई।


सूरजपुर जिले के प्रतापपुर थाना क्षेत्र के ग्राम गोटगवां में शासकीय भवन का निर्माण कार्य चल रहा है। शुक्रवार को जयनगर थाना क्षेत्र के अखोरा व घंघरी के आस-पास के 28 मजदूर पिकअप में सवार होकर बिल्डिंग के छत की ढलाई करने गए थे। काम खत्म होने के बाद सभी मजदूर रात को पिकअप में भरकर घर लौट रहे थे।

रात 9.30 बजे प्रतापपुर-अंबिकापुर मार्ग पर ग्राम धरमपुर व जगन्नाथपुर के बीच सिंगलदोन के पास पिकअप सड़क किनारे अधंरे में खड़े ट्रक से जा (Pickup accident) भिड़ी। मजदूरों का शोर सुनकर स्थानीय लोगों ने खडग़वां चौकी पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और सभी को बाहर निकला।

तब तक ग्राम अखोराखुर्द निवासी गोरेलाल (30) व धनुकधारी (50) की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने बाकी बचे घायलों को इलाज के लिए प्रतापपुर अस्पताल भिजवाया। यहां चिकित्सकों ने सभी का प्राथमिक उपचार करने के बाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल अंबिकापुर रेफर कर दिया।

यहां देर रात को सभी को इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। गंभीर रूप से घायल २ लोगों को गहन चिकित्सा इकाई में भर्ती कर इलाज किया जा रहा है।


पिकअप में क्षमता से अधिक थे मजदूर
घायल मजदूरों ने बताया कि पिकअप में कुल २८ लोग सवार थे। जो क्षमता से बहुत ज्यादा थे। पिकअप की गति तेज होने के कारण चालक ने वाहन से नियंत्रण खो दिया और सड़क किनारे खड़े ट्रक से भिड़ गया। ट्रक चालक सड़क किनारे खड़ा कर खाना बनाने की तैयारी कर रहा था।


ये लोग हैं घायल
घायलों में जयनगर थाना क्षेत्र के अखोरा व घंघरी के आस पास के क्षेत्र के रहने वाले हैं। इसमें मनमोहन निषाद (३०), योगेश साय (17), राजू (30), मनसुद (30), बहोरन (40), रामलखन (30), बलेश्वर (20), महंगू (33), शैलेंद्र (१९), विजय (२५), बीरबल (३०), जगमोहन (३०) सहित अन्य लोगों को इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल व मिशन अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


सड़क के अधूरे कार्य पर एसपी ने जताई नाराजगी, लगाई फटकार
दुर्घटना की सूचना पर शनिवार को एसपी राजेश कुकरेजा, एएसपी हरीश राठौर, एसडीएम सीएस पैंकरा घटनास्थल पर पहुंचे। इस दौरान सरपंच व अन्य ग्रामीणों ने बताया कि धरमपुर-जगन्नाथपुर के बीच सड़क का कार्य अधूरा होने की वजह से आए दिन हादसे हो रहे हैं। ठेका कंपनी द्वारा काम में लापरवाही बरती जा रही है। इस पर एसपी ने कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए ठेका कंपनी के कर्मचारी व सड़क विकास निगम के अधिकारियों को फटकार लगाई और जल्द कार्य प्रारंभ करने को कहा। साथ ही सिंगलदोन में लगातार हो रहे हादसे को लेकर यहां संकेतक व चेतावनी बोर्ड लगाने को कहा।


महान-2 चौक पर ग्रामीणों ने चक्काजाम कर ठप किया कोल परिवहन
भारी वाहनों की वजह से आए दिन हो रहे हादसे व सड़क की दुर्दशा से नाराज पंपापुर व केरता के ग्रामीणों ने महान-2 चौक पर चक्काजाम कर दिया। इससे एसईसीएल का कोल परिवहन पूरी तरह से ठप हो गया, दोनों तरफ कोल वाहनों की कतार लग गई।

ग्रामीणों का कहना था कि प्रतिबंधित क्षेत्र होने के बावजूद मार्ग पर कोल सहित अन्य भारी वाहनों का आवागमन हो रहा है। कोल डस्ट की वजह से जीना दूभर हो गया है। सड़क की भी दुर्दशा हो गई है, प्रबंधन द्वारा नियमित रूप से जल का छिड़काव भी नहीं कराया जाता। इसकी सूचना मिलने पर एसडीएम सीएस पैंकरा मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझाइश दी लेकिन ग्रामीण अपनी मांगों पर अड़े रहे।

अंबिकापुर की Accident की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Ambikapur accident

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned