Breaking News : विधवा महिला से 3 बार दुष्कर्म फिर चाकू से ताबड़तोड़ किया हमला, बोरा ओढ़कर रातभर लेटी रही अद्र्धनग्न

अंबिकापुर शहर से अपने साथ बस में बैठाकर घर ले गया और दिया वारदात को अंजाम, महिला की हालत नाजुक

अंबिकापुर/राजपुर. कपड़ा दुकान में काम करने वाली 28 वर्षीय विधवा महिला को सोमवार की रात उसका पूर्व परिचित युवक बस में बैठाकर अपने घर ले गया। यहां उसने महिला से 3 बार दुष्कर्म किया। इसके बाद किसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया। इस पर युवक ने चाकू से उस पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। महिला चिल्लाते हुए घर से बाहर निकली और बचाने की गुहार लगाने लगी।

इस दौरान वहां कोई नहीं पहुंचा। ऐसे में महिला किसी दूसरे के घर की परछी में रातभर बोरा ओढ़कर अद्र्धनग्न लहूलुहान हालत में लेटी रही। सुबह जब लोगों की नजर पड़ी तो उसे अस्पताल ले जाया गया। उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया। यहां उसका इलाज जारी है। पुलिस ने महिला का बयान भी दर्ज किया। पुलिस आरोपी युवक की खोजबीन में जुट गई है।


सरगुजा जिले के लुंड्रा विकासखंड अंतर्गत ग्राम जमड़ी निवासी 28 वर्षीय महिला के पति की मौत 5 वर्ष पूर्व सड़क दुर्घटना में हो गई थी। उसका 5 वर्ष का पुत्र भी है। महिला का पुत्र अपनी नानी के घर में ही रहता है। जबकि महिला अंबिकापुर के ब्रम्हरोड में किराए के मकान में रहकर देवीगंज रोड स्थित कपड़ा दुकान में काम करती है। सोमवार की रात वह कपड़ा दुकान से छुट्टी के बाद संगम चौक के पास पहुंची थी।

इसी दौरान पूर्व परिचित युवक राजपुर थानांतर्गत ग्राम चरगढ़ निवासी सुरेंद्र गुप्ता पिता रामनरेश गुप्ता 30 वर्ष वहां उससे मिला। दोनों के बीच कुछ बात हुई फिर युवक उसे प्रतीक्षा बस स्टैंड ले गया। यहां से बस में बैठाकर वह महिला को अपने घर ले गया। रात 11 बजे से उसने महिला के साथ 3 बार दुष्कर्म किया। इसी बीच किसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया।

इसी दौरान युवक ने चाकू निकाल लिया और महिला पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। चाकू के हमले से गंभीर रूप से घायल महिला भागती हुई दरवाजा खोलकर बाहर निकली और बचाओ-बचाओ चिल्लाने लगी। इस दौरान एक व्यक्ति ने दरवाजा खोला लेकिन उसने डर से फिर दरवाजा बंद कर लिया। इसके बाद महिला भागती हुई किसी दूसरे के घर की परछी में पहुंची और लहूलुहान हालत में वहीं गिर गई।

युवक ने महिला के कपड़े भी फाड़ दिए थे। रातभर वह अद्र्धनग्न हालत में बोरा ओढ़कर परछी में ही पड़ी रही। सुबह जब गांव के लोगों की नजर उस पर पड़ी तो उन्होंने १०८ की सहायता से उसे राजपुर अस्पताल में भर्ती कराया। यहां प्राथमिक उपचार पश्चात डॉक्टरों ने उसे मेडिकल कॉलेज अंबिकापुर के लिए रेफर कर दिया। यहां महिला का इलाज जारी है।


चाकू से 8-10 वार, पहले भी करता था परेशान
घायल महिला ने पुलिस को बताया कि आरोपी सुरेंद्र गुप्ता ने उसकी जांघ, सिर, चेहरे, हाथ सहित अन्य जगहों पर करीब 10 वार किए हैं। उसने बताया कि आरोपी पहले से ही उसे परेशान करता आ रहा है। इसकी शिकायत भी उसने हरिजन थाने में की थी, लेकिन पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। अगर पुलिस ने कार्रवाई की होती तो उसे ये दिन नहीं देखना पड़ता। इधर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ जुर्म दर्ज कर उसकी खोजबीन शुरु कर दी है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned