Video: स्वास्थ्य मंत्री टीएस बोले- डरने की जरूरत नहीं है, किसी के घर की एक ईंट भी नहीं हिलने देंगे, तहसीलदार ने गलत तरीके से जारी किया है नोटिस

Cabinet minister: नजूल भूमि पर काबिज लोगों को तहसीलदार के माध्यम से नोटिस मिलने से दहशत पर बोले स्वास्थ्य मंत्री, पार्षद बोले- तहसीलदार का यह कार्य अशोभनीय

अंबिकापुर. जिला प्रशासन की ओर से नजूल भूमि पर काबिज लोगों को इन दिनों नोटिस जारी की जा रही है। इसमें शासन द्वारा निर्धारित गाइड लाइन के अनुसार काबिज जमीन की 152 प्रतिशत राशि चुकता कर भू-स्वामित्व हासिल करने का प्रावधान है। राशि नहीं पटाने की स्थिति में काबिज जमीन को खाली कराने की चेतावनी तहसीलदार द्वारा दी गई है। इस बात से लोगों में दहशत का माहौल है।

लोग शासन-प्रशासन को कोस रहे हैं। इसी तारतम्य में रविवार को गांधीनगर स्थित शिवमंदिर में एक बैठक रखी गई। इसमें वार्ड क्रमांक 7 के पार्षद द्वितेंद्र मिश्रा, वार्ड 3 की पार्षद गीता रजक समेत काफी संख्या में लोग शामिल हुए। लोगों ने पार्षदों के समक्ष इस प्रस्ताव को रखा कि इतनी जल्दी वे लाखों रुपए कैसे पटा सकते हैं, इसे किश्तों में किया जाए तथा 152 प्रतिशत की दर से जमीन की कीमत न लेकर इसे 100 प्रतिशत तक ही सीमित रखा जाए।

इस पर पार्षद द्वितेंद्र मिश्रा ने लोगों की स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से मोबाइल पर बात कराई। स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों को उचित कार्रवाई का आश्वासन देते हुए कहा कि किसी के घर के एक ईंट भी नहीं गिराने देंगे।


मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि आप लोगों के पास तहसीलदार के पास से एक कागज आया हुआ है, उसमें लिखा है कि जमीन के पट्टे के लिए राशि इतने दिन के भीतर पटा दें, नहीं तो अतिक्रमण हटाया जाएगा। इससे आपलोग चिंतित हैं। उन्होंने कहा कि इससे डरने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है।

ये गलत तरीके से तहसीलदार द्वारा दिया गया है। इस संबंध में सीएम से मेरी बात हुई है और उच्चाधिकारियों को एक पत्र जारी कर दी गई है जिसमें ऐसा कोई भी शब्द नहीं रहेगा जिसमें घर टूटने जैसी बात हो। जब इतने साल तक नहीं टूटा तो अब कैसे टूटेगा। आपलोग जमीन का पैसा पटाने के लिए तैयार है तो घर कैसे टूटेगा?

Video: स्वास्थ्य मंत्री टीएस बोले- डरने की जरूरत नहीं है, किसी के घर की एक ईंट भी नहीं हिलने देंगे, तहसीलदार ने गलत तरीके से जारी किया है नोटिस

ये हमलोगों की जिम्मेदारी है, आपलोग बिल्कुल भी चिंता मत करिएगा। किसी के घर की एक ईंट भी नहीं हिलने देंगे। हमलोग आप सभी को आपका अधिकार दिलाने की कोशिश कर रहे हैं तो टूटने की बात कैसे हो सकती है।


किश्तों में राशि पटाने और लोन दिलाने पर भी चल रही बात
टीएस सिंहदेव ने कहा कि एक बार में राशि पटाने की जगह किश्तों में किए जाने को लेकर चर्चा हो रही है। यदि किश्तों की बात आएगी तो जमीन का पूरा पैसा पटने के बाद पट्टे का अधिकार दिया जाएगा। कुछ लोगों ने मुझे फोन किया था कि बैंकों से लोन मिल सकता है क्या? इस पर शासन प्रशासन द्वारा रायपुर में स्टेट बैंक के उच्चाधिकारियों से भी लोन देने के संबंध में बात की गई है और वे सहमत भी हैं।


डीड डेब्ट के कागज उपलब्ध कराएगी सरकार
टीएस सिंहदेव ने कहा कि यदि डीड डेब्ट (विलेख कर्ज) की बात आती है तो शासन डीड (विलेख) के कागज उपलब्ध करा रही है, इसका एक प्रोफार्मा रहेगा, उस डीड को आप भरकर बैंक से लोन लेकर भी राशि पटा सकते हैं। उन्होंने कहा कि हमलोग हर परिस्थिति में आपके साथ हैं। कभी-कभी अति उत्साह में ऐसे कागज निकाले जाते हैं। उन्होंने कहा कि आपलोग हम सभी का इतना साथ देते हैं, ऐसे में यह कैसे हो सकता है कि किसी का घर टूट जाए।

Video: स्वास्थ्य मंत्री टीएस बोले- डरने की जरूरत नहीं है, किसी के घर की एक ईंट भी नहीं हिलने देंगे, तहसीलदार ने गलत तरीके से जारी किया है नोटिस

ऊपर तक पहुंचाएंगे आपकी बात
गांधीनगर डेयरी फार्म रोड स्थित शिवमंदिर में आयोजित बैठक में पार्षद द्वितेंद्र मिश्रा ने कहा कि तहसीलदार द्वारा जारी की जा रही नोटिस में लिखीं बातें काफी अशोभनीय है। उन्होंने कहा कि हम सब आपके साथ हैं। हम आपकी बातें शासन तक पहुंचाएंगे।

मैं यह आश्वासन नहीं दे रहा कि 152 प्रतिशत से राशि कम हो जाएगी या किश्तों मेें पटाने की व्यवस्था हो जाएगी लेकिन आपकी बात शासन-प्रशासन में ऊपर तक पहुंचाएंगे। इस दौरान पूर्व पार्षद कलाचंद साव, विपिन पांडेय, मंटू पाठक, भीम तिवारी, जय गुप्ता, रमेश सिंह, नरेंद्र विश्वकर्मा, टिंकू माथुर, शैलेष उपाध्याय, संजय गुप्ता समेत काफी संख्या में महिला-पुरुष उपस्थित थे।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned