कीमोथेरेपी से अब अंबिकापुर में भी होगा कैंसर जैसी घातक बीमारी का इलाज, स्वास्थ्य मंत्री ने किया ऑनलाइन शुभारंभ

Cancer: स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि रेडियोथेरेपी की सुविधा भी जल्द होगी उपलब्ध, शहर के नवापारा स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पहले दिन 2 मरीजों का किया गया कीमो

By: rampravesh vishwakarma

Published: 17 Sep 2020, 01:01 AM IST

अम्बिकापुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव की पहल पर अम्बिकापुर के नवापारा स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कैंसर (Cancer) जैसी घातक बीमारी के इलाज हेतु कीमोथेरेपी (Chemotherapy) की सुविधा उपलब्ध हो गई है। मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव के मुख्य आतिथ्य में दो बिस्तरीय दीर्घायु वार्ड में स्थापित कीमोथेरेपी का ऑनलाइन शुभारंभ हुआ।

सिंहदेव के साथ रायपुर से जिला पंचायत सदस्य आदित्येश्वर शरण सिंहदेव ऑनलाइन जुड़े हुए थे। वहीं नवापारा प्राथमिक स्वास्थय केंद्र में छत्तीसगढ़ राज्य वन औषधि पादप बोर्ड के अध्यक्ष बालकृष्ण पाठक, महापौर डॉ. अजय तिर्की, जिला पंचायत के उपाध्यक्ष राकेश गुप्ता, पार्षद द्वितेंद्र मिश्र, गीता रजक उपस्थित थे।


कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मंत्री सिंहदेव ने कहा कि स्थानीय स्तर पर कैंसर के इलाज के लिए नवापारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कीमोथेरेपी की व्यवस्था की गई है। कीमोथेरेपी प्रारम्भ होने से मरीजों को अब बड़े शहरों का रूख नहीं करना पड़ेगा। कैंसर के इलाज के लिए कीमोथेरेपी के साथ ही रेडियोथेरेपी की भी अत्यंत आवश्यकता होती है।

इस केंद्र में रेडियोथेरेपी की सुविधा भी जल्द उपलब्ध कराने के प्रयास किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि मरीजों को बेहतर इलाज सेवा भावना के साथ उपलब्ध कराएं। कोरोना महामारी के संकट काल में कोरोना योद्धाओं की सेवा समाज को मिलती रहे। बालकृष्ण पाठक ने कहा कि सरगुजावासियों के लिये आज ऐतिहासिक दिन है।

कीमोथेरेपी से अब अंबिकापुर में भी होगा कैंसर जैसी घातक बीमारी का इलाज, स्वास्थ्य मंत्री ने किया ऑनलाइन शुभारंभ

इस सेंटर में कैंसर के मरीजो के लिए कीमोथेरेपी की सुविधा मिलने से एक नया आयाम स्थापित हुआ है। कैंसर मरीजों को अब यहीं कीमोथेरेपी की सुविधा नि:शुल्क मिलेगी।

नवापारा शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र एक बेहतर संस्था के रूप में स्थापित हो रहा है। इस अवसर पर मेडिकल कालेज के डीन डॉ. आरके सिंह, सीएमएचओ डॉ. पीएस सिसोदिया, शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नावापारा के प्रभारी डॉ. आयुष जायसवाल, डॉ. अमीन फिरदौसी सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।


पहले दिन दो मरीजों की हुई कीमोथेरेपी
डॉ. शैलेंद्र गुप्ता ने बताया कि कैंसर की 60 प्रतिशत बीमारी बिना संक्रमण से फैल रही है। इस बीमारी में काम करने की क्षमता में कमी आ जाती है। उन्होंने बताया कि कैंसर के का इलाज सर्जरी, कीमोथेरेपी (Chemotherapy) तथा रेडियोथेरेपी द्वारा किया जाता है।

इस केंद्र में वर्तमान में 2 बेड के वार्ड से कीमोथेरेपी की शुरुआत की गई है जिसे 30 बेड के वार्ड में विस्तारित किया जाएगा। शुभारम्भ के दिन ही दीर्घायु वार्ड में दो मरीजों का कीमोथेरेपी की गई।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned