scriptChandra Grahan 2021: Unmarried people should not see lunar eclipse | Chandra Grahan 2021: अविवाहित लोगों को नहीं देखना चाहिए चंद्रग्रहण या सूर्य ग्रहण, इसके पीछे ये है मान्यता | Patrika News

Chandra Grahan 2021: अविवाहित लोगों को नहीं देखना चाहिए चंद्रग्रहण या सूर्य ग्रहण, इसके पीछे ये है मान्यता

Chandra Grahan 2021: अब से कुछ देर बाद ही लगने वाला है इस साल का आखिरी और सबसे लंबा चंद्रग्रहण, चंद्रग्रहण (Chandra Grahan) एक खगोलीय घटना (celestial event) है लेकिन धर्म में इसे लेकर अलग ही मान्यता है, इस कारण से अविवाहित युवक-युवतियों को चंद्रग्रहण देखने से मना किया जाता है

अंबिकापुर

Updated: November 19, 2021 11:23:33 am

Chandra Grahan 2021: कार्तिक पूर्णिमा यानी आज साल 2021 का अंतिम चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है। हालांकि ये ग्रहण भारत में प्रभावी नहीं है, ये जिस वक्त लगेगा उस वक्त भारत में दिन रहेगा लेकिन ये जिस वक्त खत्म होगा उस वक्त देश के पूर्वोत्तर राज्यों में सूर्यास्त होगा और तब उस वक्त ये आंशिक रेखा के रूप में नार्थ ईस्ट में नजर आएगा।
Lunar eclipse
Chandra Grahan 2021
भारतीय समय के अनुसार चंद्रग्रहण सुबह 11.34 बजे प्रारंभ होगा और शाम 5.33 पर पूर्ण होगा। चंद्रग्रहण के दौरान कुछ काम वर्जित होता है, वहीं अविवाहित लोगों को चंद्रग्रहण (Chandra Grahan 2021) देखने से रोका जाता है। इसके पीछे की वजह चांद को भगवान गणेश द्वारा श्राप देने को माना जाता है।

पौराणिक कहानी के अनुसार चांद को अपने रूप पर घमंड हो गया था। एक बार उसने भगवान गणेश (Lord Ganesha) का मजाक उड़ा दिया तो उन्होंने गुस्से में उसे श्राप दे दिया था। उन्होंने कहा था कि जो भी तुम्हे निहारेगा वह कलंक का भागीदार होगा। चांद को जब ये श्राप मिला तो उसकी पत्नियां उससे दूर हो गईं।
इसके बाद चांद को अपनी गलती का एहसास हुआ और उसने भगवान गणेश से माफी मांगी। भगवान गणेश ने कहा कि मेरा श्राप वापस नहीं आ सकता लेकिन जिस दिन तुम पूरे आकार में होगे, अर्थात पूर्णिमा के दिन लोग तुम्हारी पूजा करेंगे। इसके लिए उन्हें तुम्हारी परछाई की पूजा करनी होगी,
तब से चांद की पूजा छलनी से होने लगी और चांद की पत्नियां वापस लौट आईं। उसका वैवाहिक जीवन (Marriage life) प्रभावित हुआ था इस वजह से बड़े-बुजुर्ग अविवाहितों को चांद को निहारने से मना करते हैं।
यह भी पढ़ें
Chandra Grahan 2021: चंद्रग्रहण के दौरान नहीं करना चाहिए ये काम, पहले और बाद में जरूर करें ये काम


अविवाहित लोगों को नहीं देखने दिया जाता चांद
वैसे तो साइंस के हिसाब से चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan 2021) एक खगोलीय घटना (celestial event) है लेकिन धर्म में ग्रहण को लेकर कुछ बातें कहीं गई हैं, जिसके हिसाब से चंद्र ग्रहण हो या सू्र्य ग्रहण दोनों का होना अच्छा नहीं मानते हैं। ऐसा माना जाता है कि चंद्र ग्रहण के दिन चांद को देखने से अविवाहित लोगों की शादी में बाधा आती है।
उनकी बनती-बनती बात बिगड़ जाती है, क्योंकि पौराणिक कथाओं के मुताबिक चांद को श्राप मिला हुआ है, जिसकी वजह से चांद को सीधे तौर पर देखने पर देखने वाले व्यक्ति के वैवाहिक जीवन में दिक्कतें आती हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Army Day 2022: सेना प्रमुख MM Naravane ने दी चीन को चेतावनी, कहा- हमारे धैर्य की परीक्षा न लेंUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावUttar Pradesh Assembly Elections 2022: टूटेगी मायावती और अखिलेश की परंपरा, योगी आदित्यनाथ गोरखपुर से लड़ेंगे विधानसभा चुनावPunjab Assembly Election: कांग्रेस ने जारी की 86 उम्मीदवारों की पहली सूची, चमकोर से चन्नी, अमृतसर पूर्व से सिद्धू मैदान मेंअब हर साल 16 जनवरी को मनाया जाएगा National Start-up DayHaryana: सरकार का निर्देश, बिना वैक्सीन लगाए 15 से 18 वर्ष के बच्चों को स्कूल में नहीं मिलेगी एंट्रीUP Election: सपा RLD की दूसरी लिस्ट जारी, 7 प्रत्याशियों में किसी भी महिला को नहीं मिला टिकटजम्मू कश्मीर में Corona Weekend Lockdown की घोषणा, OPD सेवाएं भी रहेंगी बंद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.