प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना मरीजों का इलाज कराने पर प्रतिदिन लगेंगे इतने रुपए, शासन ने तय किया पैकेज

Corona treatment: डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना एवं आयुष्मान भारत (Ayushman Bharat) प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत कुछ कम दर पर किया जाएगा इलाज (Treat)

By: rampravesh vishwakarma

Published: 06 Apr 2021, 05:54 PM IST

अंबिकापुर. निजी अस्पतालों में कोविड-19 संक्रमित मरीजों के उपचार हेतु पैकेज दर निर्धारित कर दिया गया है। इस संबंध में संचालक स्वास्थ्य सेवाएं छत्तीसगढ़ द्वारा समस्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को कार्रवाई हेतु निर्देश दिए गए हैं।

डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना एवं आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत कुछ कम दर पर इलाज किया जाएगा।

Read More: यहां कोरोना से 2 और संक्रमितों की मौत, एक को कोविड अस्पताल से बाहर ले जाने की चल रही थी तैयारी


निर्धारित पैकेज दर अनुसार डॉ खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना एवं आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना अन्तर्गत ऑक्सीजन के साथ हाई डिपेंडेंसी यूनिट के निजी अस्पताल (Private hospital) में इलाज के लिए 5 हजार 500 रुपए प्रतिदिन, वेंटिलेटर के साथ आईसीयू हेतु 9 हजार प्रतिदिन तथा बिना वेंटीलेटर के साथ आईसीयू हेतु 7000 रुपये प्रतिदिन निर्धारित किया गया है।

इसी प्रकार बिना योजना वाले निजी चिकित्सालयों के लिए एनएबीएच संबद्ध अस्पताल बिना आईसीयू हेतु 4 हजार रुपए प्रतिदिन, वेंटिलेटर के साथ आईसीयू हेतु 11 हजार प्रतिदिन तथा बिना वेंटीलेटर के साथ आईसीयू हेतु 8 हजार 500 रुपए प्रतिदिन तथा एनएबीएच असंबद्ध अस्पतालों में इलाज हेतु बिना आईसीयू के 4 हजार रुपए प्रतिदिन,

वेंटिलेटर के साथ आईसीयू के लिए 11 हजार रुपए प्रतिदिन तथा बिना वेंटीलेटर के साथ आईसीयू हेतु 7 हजार 500 रुपये प्रतिदिन दर निर्धारित की गई है। इसमें कोविड-19 टेस्ंिटग, महंगे दवाई और सीटी स्कैन एवं एमआरआई शुल्क शामिल नहीं है।

Read More: संशोधित आदेश: अब रात 10 बजे तक खुलेंगे होटल, ढाबा व रेस्टोरेंट, 11 बजे तक मिलेगी ये सुविधा


मरीज द्वारा ही वहन किया जाएगा इलाज का व्यय
पत्र में कहा गया है कि छत्तीसगढ़ राज्य के निजी चिकित्सालयों (Private hospitals) में नॉन स्कीम अन्तर्गत कोविड-19 संक्रमितों के इलाज में होने वाले व्यय का वहन मरीज के द्वारा स्वयं ही किया जाएगा।

डेड बॉडी स्टोरेज एवं कैरिज हेतु अधिकतम 2 हजार 500 रुपए ही लिए जा सकेंगे। योजना से पंजीकृत निजी अस्पतालों के द्वारा अन्य सभी प्रकार की शुल्क योजना अन्तर्गत निर्धारित दरों पर ही लिए जाएंगे।

COVID-19 COVID-19 virus
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned