अनुराग बोले- जनता व वैज्ञानिकों से माफी मांगें स्वास्थ्य मंत्री टीएस, को-वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने पर लोगों ने उठाए सवाल

Corona vaccine: को-वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने पर भाजपा जिला उपाध्यक्ष के नेतृत्व में भाजपाइयों (BJP workers) ने सीएमएचओ (CMHO) को सौंपा ज्ञापन

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 05 Mar 2021, 12:09 AM IST

अंबिकापुर. भाजपा जिला उपाध्यक्ष विनोद हर्ष के नेतृत्व में लोगों ने कोरोना वायरस (Corona virus) से बचाव हेतु को-वैक्सीन (Corona vaccine) उपलब्ध कराए जाने की मांग को लेकर गुरुवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को ज्ञापन सौंपा है।

ज्ञापन में बताया गया कि कोरोना (Corona) से रक्षा हेतु टीकाकरण अभियान के तहत टीका लगवाने गए थे, परंतु को-वैक्सीन की उपलब्धता नहीं होना स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा बताया गया। इधर भाजपा प्रदेश प्रवक्ता अनुराग सिंहदेव ने कहा है कि को-वैक्सीन को लेकर स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister) टीएस जनता व वैज्ञानिकों से माफी मांगें।


सीएमएचओ को सौंपे ज्ञापन में भाजपाइयों ने बताया कि आज 60 साल से ऊपर और निर्धारित 45 वर्ष से ऊपर के लगभग 10 नागरिक वैक्सीन लगवाने अस्पताल पहुंचे, जहां उन्हें को-वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने की जानकारी दी गई।

नागरिकों ने सीएमएचओ से को-वैक्सीन उपलब्ध कराने की मांग की। 60 वर्ष से ऊपर जो वैक्सीनेशन के लिए गए थे, उनमें नन्द किशोर गुप्ता, कृष्णा कुमार सोनी, रमेश कुमार जिंदल, उमेश कुमार, बद्रीनारायण सहित अन्य तथा 50 से उपर में स्वयं विनोद हर्ष उपस्थित थे।

ज्ञापन सौंपने के दौरान मण्डल उपाध्यक्ष बल्लू शर्मा, रामप्रवेश पाण्डेय, संजय गुप्ता, संजीत सिंह उपस्थित रहे। इन सभी ने को-वैक्सीन उपलब्ध कराने की मांग की।


'जनता व वैज्ञानिकों से माफी मांगें स्वास्थ्य मंत्री'
भाजपा प्रदेश प्रवक्ता अनुराग सिंहदेव ने भी छत्तीसगढ़ के लाभार्थियों को भारत सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गई वैक्सीन में बेहतर चयन का अधिकार दिए जाने की मांग की है। उन्होंने कहा की को-वैक्सीन जिसे पूरे देश और भारत द्वारा विदेशों को भी भेजी जा रही है और इससे छत्तीसगढ़ के नागरिक को वंचित किया जा रहा है।

अनुराग ने कहा कि छत्तीसगढ़ में राजनीतिक कारणों से को-वैक्सीन पर प्रतिबंध लगाया गया है जो अनुचित है। अब तो परीक्षणों में को-वैक्सीन के काफी प्रभावी होने के नतीजे सामने आए हैं। भारत सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ को भेजी गई को-वैक्सीन की खेप को रायपुर में ही रोक कर रखा गया, जो निंदनीय है।

अब को-वैक्सीन के परीक्षण के नए परिणामों के बाद टीएस सिंहदेव को राज्य की जनता एवं वैज्ञानिकों से माफी मांगनी चाहिए और राज्य के सभी टीकाकरण केंद्रों में को-वैक्सीन की पहुंच सुनिश्चित करना चाहिए। अनुराग सिंह देव ने भी सीएमएचओ दफ्तर पहुंचकर वैक्सीन की उपलब्धता को लेकर जानकारी ली।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned